डांगी पटेल पाटीदार समाज का महाकुम्भ 24 सितम्बर को बेणेश्वर में

डांगी पटेल पाटीदार समाज का महाकुम्भ 24 सितम्बर को बेणेश्वर में 

डांगी पटेल पाटीदार समाज द्वारा भी आगामी चुनाव की रणनीति तय की जाएगी

 
dangi patel patidar samaj

उदयपुर के टाउन हॉल में चिंतन शिविर के माध्यम से डांगी पटेल पाटीदार समाज द्वारा समाज के लोगों को एक जाजम पर लाने का जो बीज बोया गया था, वह अब बेणेश्वर में एक विशाल छायादार पेड़ के रूप में दिखाई देगा।

डांगी पटेल पाटीदार समाज द्वारा आगामी 24 सितम्बर को बेणेश्वर में एक विशाल महाकुम्भ का आयोजन किया जा रहा है, जिसमें 5 लाख से अधिक लोगों के सम्मिलित होने की सम्भावना है।

जिस जगह से कांग्रेस और बीजेपी ने चुनावी शंखनाद किया था, वहीं से डांगी पटेल पाटीदार समाज द्वारा भी आगामी चुनाव की रणनीति तय की जाएगी।

मंगलवार को समाज के लोगों ने पत्रकार वार्ता करते हुए बताया कि राजनीतिक पार्टियों ने अब तक उदयपुर के ग्रामीण क्षेत्रों को आदिवासियों से जोड़कर देखा है, लेकिन उदयपुर की 28 विधानसभा सीटों पर सबसे ज्यादा वोट डांगी पटेल पाटीदार समाज के हैं। उन्होंने कहा कि अगर सरकार जातिगत मतगणना कराती है तो दूध का दूध और पानी का पानी हो जाएगा लेकिन असलियत सबके सामने आने की वजह से कोई भी पार्टी जातिगत मतगणना नहीं कर रही।

जिस बेणेश्वर धाम से बीजेपी के बड़े नेता अमित शाह और कांग्रेस से राहुल गांधी ने आदिवासी वोटर को साधने का प्रयास किया था उसी स्थान पर 5 लाख से ज्यादा संख्या में समाज के लोग इकट्ठा होंगे जो यह साबित करेंगे कि उदयपुर के ग्रामीण इलाकों में आदिवासी नहीं बल्कि डांगी पटेल और पाटीदार समाज का बाहुल्य है।

पत्रकार वार्ता के दौरान उदय लाल डांगी ने राजनीतिक पार्टियों से डांगी पटेल पाटीदार समाज के लोगों को टिकट देने की मांग की है। उन्होंने कहा कि अगर समाज को प्रतिनिधित्व का मौका मिलता है तो सभी एकजुट होकर कैंडिडेट को जिताएंगे।

वहीं मावली से पूर्व विधायक पुष्कर लाल डांगी ने कहा कि मेवाड़ संभाग में हमारे समाज को अलग-अलग नाम से जाना जाता था, जिसमें लोग डांगी, पटेल और पाटीदार को अलग-अलग मानते थे। ऐसे में हम दिखाना चाहते हैं कि यह सभी लोग एक ही समाज से हैं। उन्होंने कहा कि बेणेश्वर में होने वाले महाकुंभ के जरिए हम सरकार को समाज की ताकत दिखाएंगे।

अगर राजनीतिक पार्टियों ने समाज के लोगों को प्रतिनिधित्व का मौका नहीं दिया तो समाज स्तर पर निर्णय कर कैंडिडेट को अलग से भी उतारा जा सकता है। उन्होंने साफ किया कि समाज जिसका साथ देगा वही पार्टी सत्ता में आएगी।

24 सितम्बर को होने वाले सम्मेलन में उदयपुर के साथ प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़, झालावाड़, राजसमंद, डूंगरपुर और बांसवाड़ा से भी बड़ी तादाद में लोग पहुंचेंगे। पत्रकार वार्ता के दौरान गहरी लाल डांगी ने चेतावनी देते हुए कहा कि आज से पहले समाज के लोगों का सिर्फ उपयोग किया गया है ऐसे में इस बार पांच पांच टिकट नहीं दिए गए तो उसका खामियाजा पार्टी भुगतने को तैयार रहे।

इस दौरान आरएलपी से उदय लाल डांगी, मावली पूर्व विधायक पुष्कर डांगी, गहरी लाल डांगी, रूपलाल पटेल, मनी बेन, मोहनलाल डांगी, केशु लाल डांगी, अंबालाल डांगी, मोनिका डांगी, नर्मदा डांगी, और गोपी देवी के साथ मेवाड़ जगत के प्रधान संपादक राजेश डांगी मौजूद रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal