दूध सप्लायर्स की हड़ताल, शहर में सप्लाई पर असर

दूध सप्लायर्स की हड़ताल, शहर में सप्लाई पर असर

दूध की कीमतों में बढ़ोतरी नहीं होने से नाराज़गी

 
milk

सैंकड़ों लीटर दूध सड़क पर बहाया, विरोध के इस तरीके को लेकर सोशल मीडिया पर लोगो ने जताई नाराज़गी 

दूध की कीमतों में वृद्धि की मांग को लेकर उदयपुर जिला दूध उत्पादक संघठन ने आज से दो दिन की हड़ताल शुरू कर दी। आज दूध उत्पादक सड़को पर उतर आए। हड़ताल के कारण आज से निजी डेयरी एवं घर-घर में दूध की सप्लाई पुरी तरह से ठप्प रही। हड़ताल से ज़िले में करीब 1 लाख लीटर दूध के वितरण को रोका गया है।

जानकारी के अनुसार पेट्रोल-डीजल और अन्य खाद्य सामग्रियों की कीमतों में वृद्धि हुई है। ऐसे में पशु चारे की कीमतों में वृद्धि के कारण दूध की कीमतों में भी वृद्धि करने की मांग को लेकर यह हड़ताल की गई हैं। दूध उत्पादकों ने सरकार के खिलाफ नाराजगी जाहिर करते हुए काफी सारा दूध सड़कों पर फैला दिया। 

विरोध के इस तरीके को लेकर सोशल मीडिया पर लोगो ने जताई नाराज़गी 
हड़ताल के चलते दूध उत्पादकों ने सरकार के खिलाफ नाराज़गी जताते हुए विरोधस्वरूप दूध को सड़को पर बिखेर दिया। जिसका काफी लोफो ने सोशल मीडिया पर दूध उत्पादकों को आड़े हाथो लिया। लोगो को इस तरह का विरोध बिलकुल अच्छा नहीं लगा और जानकर दूध उत्पादकों को खरी खोटी सुनाई।  लोगो का कहना है की अपनी मांग मनवाने के और भी तरीके है।  इस तरह खाने पीने की वस्तुलो को सड़क पर बिखेर कर क्या फायदा हासिल होगा।  सड़क पर बिखेरने से बेहतर तो किसी गरीब को मुफ्त में दे सकते थे।  

milk

दूध संगठन के पदाधिकारी का कहना है कि उदयपुर स्थित महाराणा प्रताप कृषि एवं प्रौद्योगिकी विश्वविद्यालय के डेयरी कॉलेज में दूध के किसान को कितनी कीमत आ रही है इसके बारे में जांच करवाई गई इस पर कॉलेज से जांच के बाद प्रति लीटर 47 रुपए आ रहा हैं। इसमें गाय का खाना और पेट्रोल-डीजल सहित सभी खर्चे जोड़े गए। अभी दूध किसान 32-40 रुपए लीटर में दूध को बेच रहे हैं। ऐसे में उनके बहुत नुकसान हो रहा है और किसानों का घर खर्च तक नहीं चल पा रहा है। किसानों की मांग है कि दूध की कीमतें 42 से 47 रुपए प्रति लीटर होनी चाहिए। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal