गिट्स के छात्रों द्वारा बेज़ुबान जानवरो के लिए मोबाइल सेवा का लोकार्पण

गिट्स के छात्रों द्वारा बेज़ुबान जानवरो के लिए मोबाइल सेवा का लोकार्पण

बेजुबान जानवरों के भरण पोषण एवं प्राथमिक उपचार के लिए प्रदुषण रहित मोबाइल सेवा का लोकार्पण

 
gits

गीतांजली इन्स्टिटियूट ऑफ टेक्नीकल स्टडीज डबोक उदयपुर (गिट्स) उदयपुर के मेकेनिकल इन्जिनियरिंग के विद्यार्थियों द्वारा बेजुबान जानवरों के भरण पोषण एवं प्राथमिक उपचार के लिए प्रदुषण रहित मोबाइल वाहन का संशोधन किया जिसका लोकार्पण उदयपुर के माननीय कलेक्टर श्री ताराचंद मीणा के कर कमलो द्वारा किया गया।

संस्थान के निदेशक डॉ. एन. एस. राठौड ने कहा कि इन्जिनियरिंग वह नहीं है जो सिर्फ मानव जीवन को सरल बनाये अपितु असली इन्जिनियरिंग वह हैं जो इस संसार के प्राणी मात्र को ध्यान में रखते हुए उसके जीवन यापन के काम आये। 

इसी के तहत असिस्टेंट प्रोफेसर जुबेर खान के निर्देशन में मैकेनिकल इन्जिनियरिंग एवं कम्म्यूटर साईंस विभाग के छात्र चेतन प्रजापत, गोविन्द लोहार, मुजाहिद खान, इरफान मोया, ताहिर अली बोहरा, दिव्यांकर शर्मा, सुमित व्यास, गजेन्द्र भील एवं हिमान्शु बोराणा द्वारा प्रदुषण रहित मोबाइल वाहन का संशोधन कर उदयपुर ऐनीमल फीड को समर्पित किया। 

इस मोबाइल सेवा के माध्यम से उदयपुर शहर के विभिन्न स्थानों पर गायों को घास, चिड़ियों को दाना, कुत्ते को रोटी एवं पेडिग्री एवं समस्त बेजुबान जानवरों के पीने के पानी का इंतजाम के साथ साथ प्राथमिक उपचार उपलब्ध कराया जायेगा। तथा भविष्य में रेबीज के टीके लगाने के काम में इस मोबाइल वाहन सेवा का उपयोग लिया जायेगा। 

कार्यक्रम का संयोजन डॉ. विशाल जैन एवं हिना ओझा द्वारा किया गया। इस अवसर पर मैकेनिकल इन्जिनियरिंग विभागाध्यक्ष डॉ. दीपक पालीवाल एवं वित्त नियंत्रक बी.एल. जांगिड ने विद्यार्थियों को जानवरों के प्रति दया दिखाने एवं इन्जिनियरिंग का उपयोग प्राणी मात्र को लाभ पहुंचाने के लिए शुभकामनाएं प्रेषित की।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal