शहर में व्यवसायिक क्षेत्र का रूपांतरण नहीं, निगम को चपत

शहर में व्यवसायिक क्षेत्र का रूपांतरण नहीं, निगम को चपत 

निगम ने पूर्व में नोटिस भी दिए,लेकिन लोगों ने नहीं करवाए भूखंड कन्वर्ट 

 
udaipur city

उदयपुर,13 दिसंबर। शहर के मास्टर प्लान में अप्रूव्ड कई कॉलोनियां ऐसी हैं, जहां कॉमर्शियल गतिविधियां चल रही है। बड़े-बड़े शो-रूम व दुकानें हैं। लोगों ने वहां पर ऊंचे दामों में भवन, भूखंड किराए पर दे रखे हैं। जिन्हें नगर निगम ने अब तक कॉमर्शियल में कनवर्ट नहीं किया, ये कॉलोनियां कनवर्ट हो तो निगम को अच्छी खासी आय मिले और लोगों को भी फायदा पहुंचे। 

लोग मास्टर प्लान में अप्रूव्ड कॉमर्शियल क्षेत्र में अगर व्यवसायिक गतिविधियां कर रहे हैं तो वे खुद बेटरमेंट लेवी जमा करवाकर अपनी प्रोपर्टी की वेल्यू बढ़ा सकते हैं, लेकिन लोग इसमे आगे नहीं आ रहे। निगम ने ऐसे लोगों को नोटिस भी दिए है।

इन इलाके में चल रही कॉमर्शियल गतिविधि

शक्तिनगर इलाका - इस आवासीय कॉलोनी में नगर निगम ने नाले को सही करवाया तो यहां हर घर में दुकानें खुल गई।

हिरण मगरी व भूपालपुरा का कुछ इलाका - हिरणमगरी का काफी इलाका ऐसा है, जहां आवासीय इलाकों में कई लोगों ने दुकानें खोल ली।

कई इलाके ऐसे भी जहां लोग परेशान

शहर में कई रिहायशी इलाकों ऐसे भी हैं, जहां अवैध रूप से लोगों ने शो रूम व दुकानें खोलकर उन्हें कॉमर्शियल बना दिया। गली मोहल्लों में आवास के साथ खुली दुकानों के चलते कई इलाकों में लोग परेशान हैं।

यहां पर हो सकती है कामर्शियल कॉलोनियां

  • अशोक नगर मेन रोड
  • सेवाश्रम से प्रतापनगर कॉलोनी
  • हिरण मगरी मेनारिया गेस्ट हाउस तक
  • मेनारिया गेस्ट हाउस में दूसरे छोर के कुछ इलाके
  • अम्बामाता महाकालेश्वर चौराहे से मल्लातलाई तक
  • गोवर्द्धन विलास क्षेत्र का कुछ एरिया

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal