एक दिन पहले मिली थी जमानत, 3 को फिर किया गिरफ्तार

एक दिन पहले मिली थी जमानत, 3 को फिर किया गिरफ्तार

गिरफ्तार आरोपियों में सरगना भी शामिल

 
paper leak case

एक दिन पहले मिली थी 33 को जमानत

उदयपुर18 जनवरी 2023। सेकण्ड ग्रेड टीचर भरती परीक्षा मामले में गिरफ्तार 57 आरोपियों में से 33 आरोपियों को मंगलवार को जमानत मिल गई थी जिसके ठीक एक दिन के बाद पुलिस ने मामले में 3 आरोपियों को पुनः गिरफ्तार कर लिया है। 

मामले के सरगना माने जाने वाले सुरेश विश्नोई सहित 2 अन्य आरोपियों को पुलिस ने जमानत मिलने के बाद पुनः गिरफ्तार किया है और अब उनसे मामले से जुडी पूछताछ की जाएगी। 

जानकरी के अनुसार मामले में गिरफ्तार सरगना सरकारी स्कुल के हेड मास्टर सुरेश विश्नोई और उसके साथी आरोपी पीराराम और पुखराज विश्नोई को कोर्ट से मंगलवार को जमानत मिल गई थी जिन्हें सुखेर और बेकरिया थाना द्वारा पुनः गिरफ्तार कर आज बुधवार को कोर्ट में पेश किया गया जहाँ से सुरेश विश्नोई और पीराराम को 8 दिन के पुलिस कस्टडी रिमांड तो वहीँ पुखराज विश्नोई को 3 दिन के रिमांड पर भेज दिया गया है। 

जानकारी के अनुसार आरोपी पुखराज एलडीसी के पद पर कार्यरत है, इसने ही पेपर की पीडीएफ कंप्यूटर से निकाल कर सुरेश को वाट्सएप पर भेजी थी। पुलिस अब इन सब से मामले से जुडी पूछताछ करेगी। गिरफ्तार किये गए आरोपियों में से पिछले दो दिनों में 23 दिनों के बाद कुल 38 आरोपियों को कोर्ट से जमानत मिल गई थी। 

गौरतलब है की 23 दिसम्बर को पुलिस ने गोगुन्दा इलाके से पुलिस ने एक चलती हुई बस से टीचर भरती परीक्षा के जीके का पेपर सोल्व करते हुए पकड़ा था, बस में इस पूरी पेपर लीक मामले का तीन में से एक सरगना सुरेश विश्नोई भी गिरफ्तार हुआ था, उसी शाम को सुखेर थाना पुलिस क्षेत्र में बनी एक होटल से भी पुलिस ने 10 अन्य लोगों को गिरफ्तार किया था, जिस के बाद आरोपियों की संखिया 55 तक पहुँच गई थी। 

उदयपुर पुलिस इस मामले में अभी तक कुल 57 लोगों को अभी तक गिरफ्तार कर चुकी है तो दूसरी ओर जयपुर और उदयपपुर की एक सयुंक्त टीम द्वारा अन्य सरगना भूपेंद्र सारन की पत्नी और गर्लफ्रेंड भी गिरफ्तार हो चुकी है, जिनके घर की तलाशी के दौरान पुलिस ने बड़ी मात्रा में देश भर की बड़ी युनिवर्सिटी  की फर्जी डिग्रियां भी बरामद की थी। 

लेकिन दो अन्य सरगना भूपेंद्र सारन और सुरेश ढाका अभी भी फरार चल रहे है जिनके की गिरफ़्तारी के लिए पुलिस मुख्यालय द्वारा 25 हजार रूपए का इनाम भी घोषित कर दिया गया है। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal