बेटी की मौत के कारण का पता लगाने की गुहार

बेटी की मौत के कारण का पता लगाने की गुहार

ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा

 
demand to investigation

उदयपुर 10 अक्टूबर 2023। बुधवार को जिला कलेक्ट्री पर एक परिवार द्वारा अपनी बेटी की मौत के कारण का पता लगाने एवं उसके ससुराल वालों पर हत्या का आरोप लगाते हुए जिला कलेक्टर को ज्ञापन सौंपा। 

दरअसल मामला कुछ दिनों पूर्व भूतला गांव तहसील बड़गांव में महिला का सुसाइड का मामला सामने आया था। महिला के पीहर पक्ष का आरोप है की महिला को दहेज उत्पीड़न के चलते सताया जाता था और उसकी हत्या कर दी गई है।  

मृतक महिला के पिता भूरी लाल ने बताया कि उनकी पुत्री गंगा का विवाह दिनांक 26 जनवरी 2023 का देलवाडा जिला राजसमन्द निवासी दिलीप पिता भेरूलाल खटीक के साथ जाति धर्म की परम्परा अनुसार हिन्दू विवाह प्रद्धती से किया। उनके परिवार की स्थिति अत्यन्त सामान्य होते हुए भी ने हैसियत से अधिक दहेज जर जेवर वर्तन फर्निचर, कपडे लते आदि दिये। परन्तु उसका पति व ससुराल वाले संतुष्ट नही थे। व दहेज की मांग को लेकर उसके ससुर, सास,   देवर आये दिन गाली गलोच, मारपीट व अभद्र व्यवहार कर प्रताडित करते रहते थे। वो काफी परेशान थी परन्तु जैसे तैसे घर गृहस्थी नही टूटे इसलिए यह सब बर्दाश्त करती रहती थी।

दिनांक 3 अक्टूबर 2023 को प्रात: 12 बजे वह उनकी पुत्री स मिलने देलवाडा गये तो उसे सुला रखा था। घर वालो से पुछा तो बताया कि मर गई है। उन्हें इस संबंध में कोई सूचना नहीं दी। इससे पूर्व दिनांक 2 अक्टूबर 2023 को जब फोन पर बात हुई तो पुत्री ने कहा कि सास, ससुर, देवर व पति ने उसे सुला रखा था व अन्तिम सरकार की तैयारी कर रहे थे। अतः उन्हें पक्का सन्देह है कि उनकी पुत्री को उसके सास ससुर देवर व पति द्वारा दहेज के लालच में प्रताड़ित कर मार डाला हैं।

जब वह देलवाडा अपनी पुत्र के घर गये तो वह मृत पाई गई। इसके बाद उन्होंने तुरन्त 3 अक्टूबर 2023 को देलवाडा पुलिस थाना में एफआईर करवाई परन्तु आज दिनांक तक एक सप्ताह होने पर भी अभियुक्त के विरूद्ध कोई समुचित कार्यवाही हुई है ना ही अभियुक्तो को गिरफतार ही किया गया है। जिससे वह और उनका परिवार परेशान है। सी के साथ उन्होंने कहा कि उन्हें कानून से उम्मीद है कि हमे न्याय मिलेगा और अपराधीयो पर कार्यवाही होगी

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal