PM मोदी 8 जुलाई को बीकानेर में देंगे ग्रीन एक्सप्रेस हाईवे की सौगात

PM मोदी 8 जुलाई को बीकानेर में देंगे ग्रीन एक्सप्रेस हाईवे की सौगात

राजस्थान के 5 जिले जुड़ेंगे

 
ff

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एक बार फिर राजस्थान दौरे पर आएंगे। इस बार वह बीकानेर में 8 जुलाई को अमृतसर से जामनगर के बीच ग्रीन एक्सप्रेस हाईवे का लोकार्पण करेंगे। इस दौरान बीकानेर के पास ही नौरंगदेसर में प्रधानमंत्री की आम सभा भी होगी।

बीस हजार करोड़ रुपए से अधिक लागत से बने इस एक्सप्रेस हाईवे के कारण अमृतसर से जामनगर के बीच 23 घंटे का सफर घटकर महज 12 घंटे में पूरा हो जाएगा। इस एक्सप्रेस-वे से राजस्थान के 5 जिले भी जुड़ेंगे। हाईवे के बीच में जगह-जगह मिड-वे होटल्स, टोल प्लाजा, पेट्रोल पंप व चार्जिंग सेंटर भी बनाए जा रहे हैं।

केन्द्रीय कानून मंत्री और बीकानेर के सांसद अर्जुन राम मेघवाल ने बताया कि 8 जुलाई प्रधानमंत्री ग्रीन एक्सप्रेस हाईवे के साथ ही केंद्र सरकार की ओर से कराए गए अन्य विकास कार्यों का लोकार्पण करेंगे।

रेत के धोरों के बीच ग्रीन कॉरिडोर काफी आकर्षक नजर आता है। कई जगह इसमें मोड़ दिए गए हैं। हाईवे से नीचे उतरने व चढ़ने के लिए ये मोड़ बनाए गए हैं।
रेत के धोरों के बीच ग्रीन कॉरिडोर काफी आकर्षक नजर आता है। कई जगह इसमें मोड़ दिए गए हैं। हाईवे से नीचे उतरने व चढ़ने के लिए ये मोड़ बनाए गए हैं।

छह लेन का हाईवे चार राज्यों को जोड़ेगा

यह 6 लेन हाईवे पंजाब के अमृतसर से प्रारंभ होकर गुजरात के जामनगर तक कुल 1316 किलोमीटर दूरी को तय करता है। इस हाईवे की कुल लागत 20 हजार 868 करोड़ रुपए हैं।

यह हाईवे 4 राज्यों पंजाब, हरियाणा राजस्थान व गुजरात को जोड़ने वाली महत्वपूर्ण ग्रीन फील्ड परियोजना है। यह प्रोजेक्ट अमृतसर, बठिंडा, सनारिया, बीकानेर, सांचौर, समाखियाली, जामनगर जैसे औद्योगिक केन्द्रों को आपस में जोड़ता है।

पश्चिमी राजस्थान के ये जिले जुड़ेंगे

यह एक्सप्रेस वे राजस्थान के उत्तर-पश्चिमी सीमा से निकलकर हनुमानगढ़, बीकानेर, जोधपुर, बाड़मेर, जालोर जिलों से गुजरेगा। भारी वाहनों के साथ ही सामान्य लोग भी अपने वाहनों से इस रास्ते का उपयोग कर सकेंगे। बीकानेर से जोधपुर, बाड़मेर व जालोर के बीच का समय भी कम हो जाएगा।

इसके अलावा पीएम मोदी भारतमाला योजना के अन्तर्गत 820.26 करोड़ रुपए की लागत से निर्मित रायसिंहनगर- अनूपगढ़- पूगल तक की 162.46 किलोमीटर लंबी सड़क का भी शुभारंभ करेंगे। खाजूवाला से पूगल होते हुए सीधे बाप की ओर जाने वाले नए सड़क मार्ग की शुरुआत भी होगी। खाजूवाला- पूगल-बाप तक 895 करोड़ की लागत से 212 किलोमीट लंबी सड़क बनाई गई है। इन वाहनों को अब बीकानेर नहीं आना पड़ेगा।

सबसे बड़ा ग्रीन कॉरिडोर का समर्पण

प्रधानमंत्री की इस यात्रा के दौरान सबसे बड़ा लोकार्पण ग्रीन कॉरिडोर का है। प्रधानमंत्री भारत सरकार के उपक्रम पावर ग्रिड कॉर्पोरेशन द्वारा निर्मित गुजरात के बनासकांठा से शुरू होकर पंजाब के मोगा तक 1300 किलोमीटर लंबाई के ग्रीन एनर्जी कॉरिडोर का भी लोकार्पण करेंगे। इस पर 26 हजार करोड़ की लागत आई है। इसी के परिणामस्वरूप बीकानेर संभाग सोलर हब के रूप में विकसित हो रहा है।

इसे विधानसभा चुनाव से पहले भाजपा का पश्चिमी राजस्थान में शंखनाद भी माना जा रहा है। इससे पहले प्रधानमंत्री अजमेर में एक सभा कर चुके हैं। वहीं, उदयपुर में भी उनकी यात्रा बीकानेर के बाद प्रस्तावित है। प्रदेश के लगभग हर कोने में प्रधानमंत्री चुनाव आचार संहिता लागू होने से पहले अलग-अलग सभाएं कर सकते हैं। ये सभाएं विभिन्न कार्यों के लोकार्पण समारोह से जुड़ी रहेंगी।

9 महीने में 6 बार राजस्थान आ चुके प्रधानमंत्री

पिछले 9 महीने में पीएम मोदी 6 बार राजस्थान आ चुके हैं। इसकी शुरुआत 30 सितंबर 2022 को हुई थी। जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अम्बा माता के दर्शन करने आए थे। उस समय वह सिरोही जिले के आबूरोड़ भी आए थे।

  • इसके बाद 1 नवंबर 2022 को मोदी बांसवाड़ा के मानगढ़ धाम में आए।
  • पीएम 8 जनवरी 2023 को भीलवाड़ा दौरे पर आए, गुर्जर समाज के आराध्य देव देवनारायण भगवान की जयंती समारोह में शामिल हुए।
  • 12 फरवरी, 2023 को वह दौसा जिले में दिल्ली-मुंबई एक्सप्रेस वे के उद्घाटन के मौके पर आए।
  • 10 मई, 2023 को उन्होंने नाथद्वारा और आबूरोड़ में बड़ी सभाओं को संबोधित किया।
  • 31 मई, 2023 को प्रधानमंत्री ने अजमेर में बीजेपी के महाजनसंपर्क अभियान की शुरुआत करते हुए जनसभा की।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal