राजस्थान सरकार ने की प्रदेशभर के रेजिडेंट्स और इंटर्न डॉक्टर्स की मांग पूरी

राजस्थान सरकार ने की प्रदेशभर के रेजिडेंट्स और इंटर्न डॉक्टर्स की मांग पूरी

मुख्यमंत्री ने डॉक्टर्स को दिए जाने वाले मानदेय में बढ़ोतरी की है
 
cm ashok gehlot
एमबीबीएस करने के बाद एक साल इंटर्न करने वाले डॉक्टर्स के मानदेय को डबल कर दिया है। जबकि एमबीबीएस करने के बाद एमएस या एमडी की डिग्री ले रहे डॉक्टर्स के मानदेय में 15 फीसदी की बढ़ोतरी की है। 

राजस्थान में रेजिडेंट्स और इंटर्न डॉक्टर्स मानदेय बढ़ाने की मांगों को राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने पूरा कर दिया है। राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने आदेश जारी कर दिए है। 

मुख्यमंत्री ने डॉक्टर्स को दिए जाने वाले मानदेय में बढ़ोतरी की है। एमबीबीएस करने के बाद एक साल इंटर्न करने वाले डॉक्टर्स के मानदेय को डबल कर दिया है। जबकि एमबीबीएस करने के बाद एमएस या एमडी की डिग्री ले रहे डॉक्टर्स के मानदेय में 15 फीसदी की बढ़ोतरी की है। 

सरकार के इस निर्णय से प्रदेशभर के लगभग 5500 रेजिडेंट्स और इंटर्न को लाभ मिलेगा। पिछले दिनों 21 मई को प्रदेशभर में डॉक्टर्स ने 2 घंटे कोविड ड्यूटी का बहिष्कार भी किया था। उनका कहना था कि अन्य राज्यों की सरकार जिस तरह डॉक्टर्स को मानदेय देती है, ठीक उसी तर्ज पर हमें भी मानदेय दिया जाए। मांगे पूरी न करने पर डॉक्टर्स ने कहा था कि अगर सरकार 31 मई तक आदेश जारी नहीं करेगी तो एक जून से हड़ताल पर चले जाएंगे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal