Rajsamand-27 जून 2024 की प्रमुख खबरे


Rajsamand-27 जून 2024 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े Udaipur Times पर 

 
News from Rajsamand
UT WhatsApp Channel Join Now

News-खेत में मिला मृत पैंथर, वन विभाग की टीम ने जांच उपरांत किया दाह संस्कार

राजसमंद। डीसीएफ सुदर्शन शर्मा ने बताया कि बुधवार को सुबह 9 बजे सूचना मिलने पर क्षेत्रीय वन अधिकारी, झीलवाडा, रेंज झीलवाडा स्टॉफ के साथ कुम्भलगढ की ग्राम पंचायत अंटालिया के ग्राम बीड की भागल में मृत पैन्थर की सूचना पर गए। यहां निजी खातेदारी बीड में एक नर पैन्थर मरा हुआ था। डीसीएफ ने बताया कि देखने में पैन्थर की आयु करीब 06 वर्ष की लग रही थी। नर पैन्थर का शव 3-4 दिन पुरान लग रहा था एवं उसके चारों पैरों के नाखून व दांत सही सलामत थे। मौके पर ही चिकित्सा दल से आये पशु चिकित्सा अधिकारी द्वारा पोस्टमार्टम की कार्यवाही की गई। चिकित्सा दल में डॉ. सतीश शर्मा दिवेर, डॉ. सुरेश कुमार जागिड कुम्भलगढ, डॉ. गोवा राम चारभुजा द्वारा पोस्टमार्टम किया गया। पोस्टमार्टम के पश्चात् मौके पर ही उपस्थित मौतबीरान, राजस्व विभाग एवं पुलिस विभाग के प्रतिनिधि के समक्ष उक्त मृत नर पैन्थर का दांह सस्कार किया गया।

News-जिले में 1 लाख 86 हजार लाभार्थियों को 21 करोड़ रुपये की राशि हस्तांतरित

राजसमंद 24 जून। मुख्यमंत्री श्री भजनलाल शर्मा ने गुरुवार को झुंझुनू में आयोजित राज्य स्तरीय समारोह से प्रदेश के करोड़ों लोगों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओ के तहत बढ़ी हुई पेंशन राशि का सीधा हस्तांतरण कर लाभान्वित किया। इस मौके पर सभी जिलों में कार्यक्रम आयोजित हुए जो राज्य स्तरीय समारोह से वर्चुअल जुड़े। राज्य स्तरीय समारोह में सामाजिक न्याय अधिकारिता मंत्री अविनाश गहलोत सहित अन्य गणमान्य उपस्थित रहे।

राजसमंद का जिला स्तरीय कार्यक्रम आर के हॉस्पिटल के पास स्थित मार्बल गैंगसा एसोसिएशन भवन में आयोजित हुआ जिसमें राजसमंद विधायक दीप्ति किरण माहेश्वरी, जिला प्रमुख रतनी देवी जाट, समाजसेवी मान सिंह बारहठ, एडीएम नरेश बुनकर, एसडीओ अर्चना बुगालिया, उप निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता जय प्रकाश चारण सहित लाभार्थी, जनप्रतिनिधि, अधिकारी, कर्मचारी आदि मौजूद रहे।  

मुख्यमंत्री श्री भजन लाल शर्मा ने राज्य के 88 लाख से अधिक लाभार्थियों को 1037 करोड़ रुपये से अधिक की राशि हस्तांतरित की। उप निदेशक सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता जय प्रकाश चारण ने बताया कि राजसमंद जिले के 1 लाख 86 हजार लाभार्थियों को सामाजिक सुरक्षा पेंशन योजनाओं की तहत 21 करोड़ रुपये की राशि उनके बैंक खातों में प्राप्त हुई। इसके तहत वृद्धजन सम्मान पेंशन योजना, एकल नारी सम्मान पेंशन योजना, विशेष योग्यजन सम्मान पेंशन योजना, लघु एवं सीमांत वृद्धजन कृषक सम्मान पेंशन योजना की बढ़ी हुई राशि का हस्तांतरण किया गया। लाभार्थियों ने पेंशन राशि में वृद्धि हेतु मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया है। मुख्यमंत्री श्री भजन लाल शर्मा का उद्देश्य यह सुनिश्चित करना है कि प्रत्येक नागरिक को एक सम्मानजनक जीवन जीने का अवसर मिले और समाज में किसी भी प्रकार की असमानता को कम किया जा सके।

News-धारा 107-151 व 109 सीआरपीसी में गिरफ्तार व्यक्ति

थानाधिकारी आमेट ने रामसिंह पिता मनोहरसिंह उम्र 23 वर्ष निवासी नवलसिंह का गुडा थाना आमेट जिला राजसमंद को लोक शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया।
थानाधिकारी रेलमगरा ने 1. सुरेशचन्द्र पिता हरलाल खटीक उम्र 42 साल निवासी रेलमगरा थाना रेलमगरा जिला राजसमन्द 2. पप्पूसिंह उर्फ चावण्डसिंह पिता गिरधारी सिंह उम्र 24 साल निवासी माण्डफीया खेडा थाना कुंवारिया जिला राजसमन्द 3. सांवरिया पिता मिठूलाल उम्र 18 साल निवासी कानाखेड़ा थाना कुंवारिया जिला राजसमन्द 4. रतन पिता सीताराम अहीर उम्र 23 साल निवासी कानाखेड़ा थाना कुंवारिया 5. हंसराज पिता शंकरलाल अहीर उम्र 24 साल निवासी कुरज थाना कुंवारिया जिला राजसमन्द को लोक शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया।
थानाधिकारी भीम ने 1. भीम सिह पिता मोती सिह रावत उम्र 32 साल निवासी छिपोला बार थाना बार जिला ब्यावर राजस्थान 2. श्रवण सिह पिता केसर सिह रावत निवासी चेता कामलीघाट थाना देवगढ जिला राजसमन्द को लोक शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया।
थानाधिकारी चारभुजा ने 1. नाथुसिंह पिता हीरसिंह उम्र 25 निवासी किता जी भागल सेवन्त्री 2. मंगलसिंह पिता मोहबत सिह निवासी झिलवाडा को लोक शांति भंग के आरोप में गिरफ्तार किया।

News-नई कानून विधियों की जागरूकता के लिए जिला स्तरीय संगोष्ठी का हुआ आयोजन

राजसमंद। 1 जुलाई से लागू हो रही नवीन आपराधिक विधियों के प्रावधानों और नए अपराधों की जानकारी आमजन तक पहुँचाने के उद्देश्य से जिला कलेक्ट्रेट परिसर के सभागार में जिला स्तरीय संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें जिला कलेक्टर डॉ भंवरलाल, एसपी मनीष त्रिपाठी, एडीएम नरेश बुनकर, एडिशनल एसपी आनंद कुमार आदि मौजूद रहे।

भारत सरकार ने भारतीय न्याय संहिता 2023, भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता 2023 और भारतीय साक्ष्य अधिनियम 2023 लागू किए हैं। इन नए कानूनों में ब्रिटिश शासनकाल के शब्दावली, परिभाषाएँ और शब्दों को हटाकर आधुनिक वैज्ञानिक और संचार क्रांति के युग के अनुरूप प्रावधान शामिल किए गए हैं।

इस संगोष्ठी में जिला प्रशासन, जिला पुलिस प्रशासन, अभियोजन विभाग, बार एसोसिएशन राजसमंद के वरिष्ठ अधिवक्तागण, एजुकेट गर्ल्स संस्थान, राजसमंद नेटवर्क पीपल लिविंग विद एच.आई.वी. संस्थान, जन विकास संस्थान, जतन संस्थान (महिला शिक्षा, कुपोषण, बालहिंसा), अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के प्रतिनिधियों एवं आमजन ने भाग लिया। संगोष्ठी में जिला पुलिस अधीक्षक श्री मनीष त्रिपाठी, अभियोजन अधिकारी अनिल कुमार मानवताल और पुलिस निरीक्षक श्री गोविन्दसिंह ने नए कानूनों की जानकारी दी।

उल्लेखनीय है कि देशभर में 1 जुलाई से नए आपराधिक कानून लागू होने जा रहे हैं। इनके लागू होने के बाद इंडियन पीनल कोड यानि आईपीसी की जगह भारतीय न्याय संहिता 2023, क्रिमिनल प्रोसीजर कोड यानि सीआरपीसी की जगह भारतीय नागरिक सुरक्षा संहिता 2023 और इंडियन एविडेंस एक्ट की जगह भारतीय साक्ष्य अधिनियम 2023 लागू होंगे। नए आपराधिक कानूनों के जरिए यह सुनिश्चित किया जाएगा कि लोगों को त्वरित न्याय मिले। इसके लिए नई तकनीकों को पूरी प्रक्रिया में शामिल किया गया है। भारतीय न्याय संहिता 2023 कानूनी प्रक्रियाओं में पारदर्शिता और पीड़ित की भागीदारी को बढ़ावा देता है।

News-अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस पर आयोजित हुआ सेमिनार

राजसमंद जिला विधिक सेवा प्राधिकरण सचिव संतोष अग्रवाल (अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश) के निर्देशानुसार नशीली दवाओं के दुरूपयोग एवं अवैध तस्करी के विरूद्ध अंतर्राष्ट्रीय नशा निरोधक दिवस दिनांक 26 जून 2024 के उपलक्ष्य में जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राजसमंद एवं आरके हॉस्पिटल राजसमंद के संयुक्त तत्वाधान में जिला अस्पताल के सभागार में मेडिकल छात्रों के बीच निबंध प्रतियोगिता एवं सेमिनार का आयोजन किया गया। 

कार्यक्रम सत्र की शुरुआत में डॉक्टर लालचंद साइकैटरिस्ट ने नशीली दावों के दुरुपयोग एवं अवैध तस्करी के खिलाफ एक विस्तृत प्रेजेंटेशन प्रस्तुत कर उपस्थित नर्सिंग विद्यार्थियों को नशीली दवाओं के मस्तिष्क एवं शरीर में होने वाले प्रभावों एवं इससे छुटकारा पाने के बारे में विस्तृत जानकारी प्रदान की। साथ ही प्रमुख चिकित्सा अधिकारी रमेश कुमार रजक ने विद्यार्थियों को विशेष कर युवाओं को नशो से दूरी बनाने व समाज को नशा मुक्त बनाने का सन्देश  दिया।

जिला विधिक सेवा प्राधिकरण कार्मिक चेतन बागोरा ने नर्सिंग विद्यार्थियों को नशे के दुष्प्रभावों, नशा मुक्ति केंद्र, नशे से सम्बन्धित कानूनी अधिनियमों के बारे में जानकारी प्रदान करने सहित जिला विधिक सेवा प्राधिकरण की कार्यप्रणाली के बारे मे अवगत कराते हुए निःशुल्क विधिक सहायता, राष्ट्रिय लोक अदालत, पीड़ित प्रतिकर, मध्यस्थता एवं अन्य विधिक जानकारी प्रदान की। कार्यक्रम के अंत मे सभी प्रतिभागियों को नशे से स्वयं दूर रहने व समाज मे युवाओं को भी जागरूक करने की शपथ दिलाई गयी। प्राधिकरण कार्मिक सचिन व्यास भी कार्यक्रम के दौरान उपस्थित रहे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal