राजसमंद -5 अक्टूबर 2023 की प्रमुख खबरे


राजसमंद -5 अक्टूबर 2023 की प्रमुख खबरे 

ज़िले से संबंधित खबरे पढ़े उदयपुर टाइम्स पर

 
News from Rajsamand
UT WhatsApp Channel Join Now

News -जिला न्यायाधीश ने कारागृह का निरीक्षण कर व्यवस्थाओं का लिया जायजा

श्री आलोक सुरोलिया, जिला एवं सेशन न्यायाधीश (अध्यक्ष, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण, राजसमंद) ने दिनांक 05.10.2023 को 04ः10 पीएम पर जिला कारागृह का मासिक निरीक्षण कर कारागृह की भोजन, सफाई, आवास, सुरक्षा इत्यादि व्यवस्थाओं का जायजा लिया।

अपर जिला एवं सेशन न्यायाधीश श्री मनीष कुमार वैष्णव सचिव, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण राजसमंद ने बताया कि माननीय अध्यक्ष महोदय, जिला विधिक सेवा प्राधिकरण श्री आलोक सुरोलिया द्वारा जिला कारागृह निरीक्षण के दौरान कारागृह कुल 116 बंदी निरुद्ध मिले जो क्षमता से दोगुणा है। प्रातःकालीन भोजन में बंदियों को चना दाल, आलु टमाटर की सब्जी व चपाती तथा सुबह नाश्ते में मुंग दिया जाना बताया। 

वक्त निरीक्षण बंदियों के लिये सांयकालीन भोजन में कढी, दाल व चपाती तैयार की जा रही थी। श्री सुरोलिया ने कारागृह प्रशासन को निर्देश दिये कि कारागृह में ऐसा कोई भी बंदी निरूद्ध नहीं रहे जिसके पैरवी हेतु अधिवक्ता नहीं हो। उन्होंने नवीन प्रवेशित बंदियो से संवाद किया जिनमें से 2 बंदियों को विधिक सहायता के आवेदन करवाये गये तथा अन्य सभी बंदियों ने अपने प्रकरण में अधिवक्ता नियुक्त होना बताया। कारागृह में कोई भी बंदी 18 साल से कम उम्र का निरूद्ध नहीं मिला। 

जिला न्यायाधीश ने कारागृह में सजायाफ्ता बंदियों की जानकारी प्राप्त की साथ ही कारागृह की साफ-सफाई, बंदियों के स्वास्थ्य, चिकित्सा सुविधा, भोजन, इन्फ्रास्ट्रक्चर, पर्यावरण,  विधिक सहायता, शिकायतों, पेरोल, संप्रेषण, पुस्तकालय, शिक्षा, कपड़ों, वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग, सीसीटीवी कैमरा, स्वीकृत पदों इत्यादि विषयों पर जानकारी प्राप्त की। बंदियों के मनोरंजन हेतु बैरक में टेलीविजन लगी हुई है तथा सुरक्षा के लिये लगाए गए कुल 16 सीसीटीवी कैमरों में से 4 कैमरे क्रियाशील अवस्था में नहीं हैं। जिला न्यायाधीश ने बंदियों से वार्ता कर उनसे भोजन, पानी एवं अन्य व्यवस्थाओं के सम्बन्ध में जानकारी प्राप्त की साथ ही जिला कारागृह मंे स्थापित समस्त पानी की टंकियों की सफाई करने हेतु निर्देशित किया। 

इस मोके पर जिला न्यायाधीश द्वारा बंदियों की परिजनों की वार्ता हेतु स्थापित टेलिफोन बुथ का तथा पुस्तकालय एवं खुली जेल का भी निरीक्षण किया गया तथा बंदियों को विभिन्न कानूनों की जानकारी भी प्रदान की गई।

News-महिलाओं के लिए आत्मरक्षा प्रशिक्षण शिविर आयोजित

महिलाओं को आत्मनिर्भर होने के साथ साथ आत्मरक्षा के लिए जागरूक होना भी जरूरी- निर्वाण

अजमेर विद्युत वितरण निगम लिमिटेड द्वारा आज महिला अधिकरियों व कर्मचारियों हेतु हाथी भाटा स्थित कार्यालय में एक दिवसीय “आत्म सुरक्षा” प्रशिक्षण सत्र आयोजित किया गया। प्रशिक्षण सत्र का उद्घाटन प्रबंध निदेशक एन एस निर्वाण द्वारा किया गया।

प्रशिक्षण शिविर के उद्घाटन में प्रबंध निदेशक एन एस निर्वाण ने संबोधित करते हुए कहा कि अजमेर विद्युत वितरण निगम महिलाओ को बेहतर वर्किंग एनवायरमेंट एवं सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्ध है। उन्होंने कहा कि महिलाओं को अब आत्मनिर्भर होने के साथ साथ आत्मरक्षा के लिए भी जागरूक होना चाहिए। उन्होंने इस मौके पर कहा कि निकट भविष्य में अजमेर डिस्कॉम के सभी सर्किलों में महिलाओं के लिए आत्मरक्षा हेतु प्रशिक्षण शिविर के आयोजन कराए जाएंगे जिससे महिलाओं का आत्मविश्वास बढ़ेगा साथ ही उनकी कार्यक्षमता में भी सुधार होगा। 

प्रशिक्षण के बारे में निगम के मुख्य अभियंता (प्रशिक्षण) बीएस सोनी ने बताया की ए.वी.ए.ए.डी.ए, फाउंडेशन नोएडा (यूपी) विषय विशेषज्ञों द्वारा आयोजित इस प्रशिक्षण में अजमेर, नागौर व भीलवाडा जिले में कार्यरत एक्सईन, एईन, जेईन, कॉमर्शियल असिस्टेंट, सूचना सहायक, सहायक,कनिष्ठ लेखाकार, सहायक लेखाधिकारी सहित कुल 50 महिला अधिकारियो/कर्मचारियो ने भाग लिया। इस मौके पर महिला प्रतिभागियों को टी शर्ट का वितरण भी किया गया।

सोनी ने बताया कि दो सत्रों में आयोजित इस कार्यक्रम के प्रथम सत्र में- मन पर नियंत्रण तकनीक- सकारात्मक दृष्टिकोण, अप्रत्याशित आकस्मिकताओं का सामना कैसे करे, समग्र कसरत, रक्षात्मक की तकनीक और हमलावर मोड और इसी तरह द्वितीय सत्र- में -अवचेतन मन की तकनीक व्यक्तिगत, सुरक्षा अभ्यास- सरल हमला तकनीक दृ जीवन सुरक्षा-घर/सड़क/कार्यालय और अन्य स्थानों पर सुरक्षा पहलू  के बारे में बताया गया।

प्रशिक्षण देने हेतु टाटा पावर कंपनी लिमिटेड के राजेंद्र नायर विशेष रूप से अजमेर आए है। इनके द्वारा अब तक पिछले तीस सालो मे करीब 3 लाख महिलाओ एवं पुरुषो को ये प्रशिक्षण दिया जा चुका है। इसमे महिलाओ को संकट के समय बिना हथियार के केसे अपनी आत्म सुरक्षा की जाए इसका प्रशिक्षण दिया जाता है। राजन नायर द्वारा अब तक मुंबई पुलिस, बिहार इलेक्ट्रिसिटी बोर्ड,टाटा ग्रुप की सभी कंपनीज़ मे महिला कर्मचारियो को प्रशिक्षण दे चुके है।

इस दौरान अजमेर डिस्कॉम से निदेशक तकनीकी ए के गुप्ता, मुख्य अभियंता एम सी बाल्दी, बी एस सोनी, कंपनी सचिव नेहा शर्मा, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक सीताराम माहिच, अधीक्षण अभियंता बी एल गुप्ता, दिनेश सिंह, अधिशासी अभियंता एस के नागरानी, सहायक अभियंता प्रशांत पराशर सहित अन्य अधिकारी एवं कर्मचारी मौजूद रहे। ए.वी.ए.ए.डी.ए, फाउंडेशन से आलोक श्रीवास्तव, डॉ छवि अंकिता एवं राजेन्द्र नायर उपस्थित रहे।

News-सेठ रंगलाल कोठारी महाविद्यालय में दहेज प्रथा, महिला सुरक्षा पर कार्यशाला का आयोजन

सेठ रंगलाल कोठारी राजकीय स्नातकोत्तर महाविद्यालय, राजसमन्द में महिला नीति में लीगल साक्षरता के अंतर्गत कार्यशाला का आयोजन किया गया। स्थानीय महाविधालय के प्राचार्य  निर्मला मीणा के उदबोधन के साथ कार्यशाला की शुरुआत की गई। उन्होंने छात्राओं को अपने अधिकारों के लिए सजग रहने की प्रेरणा दी। 

सीनियर प्रोफेसर डॉ उषा मीणा ने अपने कर्तयों के पालन करने की प्रेरणा दी। मुख्य वक्ता  एडवोकेट रोशनलाल सोनगरा ने घरेलू हिंसा में महिला के स्वास्थ्य सुरक्षा जीवन अंग की या चाहे उसकी मानसिक या शारीरिक भलाई की अपहानि पहुंचाता है या उसे क्षति पहुंचाता है या उसे संकटापन्न करता है या उसकी ऐसा करने की प्रवृत्ति है जिसके अंतर्गत शारीरिक दुरुपयोग मौखिक और भावनात्मक दुरुपयोग या लैंगिक आर्थिक दुरुपयोग कार्य करना भी है इस अधिनियम के अधीन महिला एक या अधिक अनुतोष प्राप्त करने के लिए मजिस्ट्रेट को आवेदन प्रस्तुत कर सकेगा इस अधिनियम में व्यथित महिला कार्रवाइयों को बंद कमरे में किए जाने का इच्छा जाहिर कर सकती है और यह सुविधा उपलब्ध कराई जा सकेगी घरेलू हिंसा अधिनियम में एक व्यथित महिला पति के घर पर निवास करते हुए भी भरण पोषण प्राप्त करने की अधिकारी होती है और एक ही छत के नीचे रहने का अधिकार महिलाओं को इस अधिनियम से मिलता है कोई भी नातेदार  जबरन निवास स्थान से बाहर नहीं निकल सकता महिला अपने अधिकारों के साथ-साथ अपने कर्तव्य का भी पालन करें तो समाज में सुख शांति मान सम्मान व प्रतिष्ठा भी बनी रहती है।

कार्यक्रम मे महाविद्यालय के नेमीचंद फुलवरिया, नारायण लाल कुमावत, तरुण खटीक उपिस्थित रहे। कार्यक्रम का संचालन सोहनलाल गोसाई ने किया।


 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal