दोनों का मुंह जरूर मीठा है लेकिन आंखों में आंसू हैं....

दोनों का मुंह जरूर मीठा है लेकिन आंखों में आंसू हैं....

केंद्रीय कारागृह में राखी: भाई चारदीवारी में है और बहन कलाई पर रक्षा सूत्र बांध रही है

 
rakhi at jail

राखी का पर्व पूरे देश में धूमधाम से मनाया जा रहा है। बहने अपने भाई को राखी बांध रही है, तो वहीं भाई अपनी बहन को उपहार के साथ रक्षा का वचन भी दे रहे हैं। इस पर्व की दूसरी तस्वीर हम आपको दिखाते हैं जो आपको भावुक कर देगी। 

यह तस्वीरें उदयपुर के केंद्रीय कारागृह की है। एक तरफ भाई जेल की चारदीवारी में तो वही दूसरी ओर बहन भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांध रही है। दोनों का मुंह जरूर मीठा है लेकिन आंखों में आंसू हैं। 

उदयपुर की केंद्रीय कारागृह में दूर दराज गांवों से लंबा सफर करके अपने भाई की कलाई पर रक्षा सूत्र बांधने पहुंची बहने न सिर्फ भाई को राखी बांधकर उसका मुंह मीठा करवा रही है बल्कि अपने भाई से अपराध की दुनिया को छोड़कर पुनः साधारण जीवन में लौटने का वचन भी ले रही है। 

इस बार कारागृह में भी दो दिन तक बहनों को अपने भाई की कलई पर राखी बांधने के लिए स्वीकृति दी गई है। आमतौर पर जहां कैदियों से मिलने के लिए कुछ समय निर्धारित होता है वही इस राखी के त्योहार पर दिनभर बहाने अपने भाई से किसी भी वक्त मिलकर राखी बांध सकती है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal