ई वाहन खरीदने पर 5000 और सोलर ऊर्जा उत्पादन संयंत्र लगाने पर भी दी जाएगी राशि


ई वाहन खरीदने पर 5000 और सोलर ऊर्जा उत्पादन संयंत्र लगाने पर भी दी जाएगी राशि

बजट पूर्व नगर निगम वित्त समिति की महत्वपूर्ण बैठक संपन्न

 
nagar nigam
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर। नगर निगम वर्तमान बोर्ड का बजट जल्द ही इसी माह फरवरी को प्रस्तुत किया जाएगा इसी के तैयारी में निगम वित्त समिति की अहम बैठक समिति अध्यक्षा रुचिका चौधरी की अध्यक्षता में आयोजित की गई, बैठक में महापौर गोविंद सिंह टांक, उपायुक्त रागिनी डामोर सहित निगम के प्रमुख अधिकारी भी मौजूद रहे। 

निगम वित्त समिति अध्यक्षा रुचिका चौधरी ने बताया कि सोमवार को नगर निगम वित्त समिति की अति महत्वपूर्ण बैठक आयोजित की गई। निगम द्वारा शहर के विकास को लेकर जल्द ही बजट प्रस्तुत किया जाएगा इसी को लेकर बैठक में विस्तृत चर्चा की गई। बैठक में महापौर द्वारा निर्देश दिए गए कि इस वर्ष बजट में शहर वासियों को सभी मूलभूत सुविधाएं प्राप्त हो इसको लेकर विशेष ध्यान रखा जाए, साथ ही इसी तरह कई अन्य प्रस्ताव पर भी चर्चा की गई। 

समिति अध्यक्षा चौधरी ने बताया कि उपस्थित सदस्यो द्वारा इस वर्ष प्रस्तुत किए जा रहे निगम बजट में सभी मद में होने वाली आय व्यय के बारे में बिंदुवार विचार विमर्श किया गया। निगम द्वारा बजट में हर शहर वासियों को मूलभूत सुविधाएं सही ढंग से प्राप्त हो इस पर विशेष ध्यान रखा जाएगा। शहर वासियों को पीने के लिए पानी, अच्छी सड़कें एवं प्रकाश व्यवस्था समुचित उपलब्ध हो जाए यही प्रथम उद्देश्य रहेगा। शहर का विकास हमेशा से नगर निगम की प्राथमिकता रही है और वह आगे भी रहेगी। 

महापौर टांक ने आवश्यक कार्यों को प्राथमिकता देने के निर्देश समिति अध्यक्ष एवं लेखाधिकारी चंद्रप्रकाश तलदार को दिए हैं। समिति इसी लक्ष्य को लेकर बजट तैयार करेगी। चौधरी ने बताया कि पूर्व में नगर निगम द्वारा 298 करोड रुपए का बजट प्रस्तुत किया गया था। पूर्व बजट में संपादित किए गए कार्य को ध्यान में रखते हुए आने वाले बजट को तैयार किया जाएगा।

पर्यावरण संरक्षण को बढ़ावा देगा निगम-इ वाहन खरीदने पर निगम देगा 5000 की राशि

नगर निगम वित्त समिति अध्यक्ष रुचिका चौधरी ने बताया कि सोमवार को आयोजित हुई बैठक में महापौर गोविंद सिंह टाक द्वारा शहर को प्रदूषण मुक्त बनाने की कवायद रखी। इसी कवायद को लेकर बैठक में सर्वसम्मति से तय किया गया कि निगम क्षेत्र में रहने वाला उदयपुर मूल का व्यक्ति यदि विद्युत चलित वाहन खरीदेगा तो उसे निगम की तरफ से 5000 रुपए की राशि प्रदान की जाएगी। निगम द्वारा इसमें अलग से बाइलॉज भी बनवाए जायेंगे। यह राशि दोपहिया वाहन एवं ई रिक्शा खरीदने पर नगर निगम दी जाएगी। निगम द्वारा इस योजना में 50 लाख रुपए राशि का प्रावधान रखा गया है। जिससे निगम क्षेत्र में रहने वाले 1000 लोग लाभान्वित होंगे। निगम द्वारा यह लाभ 1 अप्रैल, 2023 के दिन या इसके बाद वाहन खरीदने वाले को दिया जाएगा।

5 kw तक सोलर ऊर्जा उत्पादन संयंत्र लगाने पर दी जाएगी राशि

वित्त समिति अध्यक्ष रुचिका चौधरी ने बताया कि समिति की बैठक में महापौर द्वारा प्रस्ताव रखा की शहर में सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा दिया जाए, इस पर सर्वसम्मति से तय किया गया कि जो भी शहरवासी अपने घरों में सौर ऊर्जा उत्पादन को बढ़ावा देने के उद्देश्य से 5 किलोवाट तक सूर्य ऊर्जा उत्पादन के संयंत्र लगाएंगे उन्हें नगर निगम द्वारा तय राशि प्रदान की जाएगी। 

निगम द्वारा जल्द ही बैठक आयोजित कर दी जाने वाली राशि के बारे में विचार विमर्श किया जाएगा। महापौर ने कहा कि शहरवासी ज्यादा से ज्यादा अपने घरों में सूर्य ऊर्जा उत्पादन संयंत्र स्थापित करें। जिससे विद्युत उत्पादन में शहर को सक्षम बनाया जा सके। हमारा शहर विद्युत उत्पादन में प्रथम स्थान प्राप्त करें ऐसी शहरवासियों से आशा है।

निगम देगा केशलेस लेनदेन को बढ़ावा

निगम वित्त समिति की बैठक में समिति लेखा अधिकारी चंद्रप्रकाश तलदार द्वारा उपस्थित सदस्यों को अवगत कराया कि वर्तमान में निगम द्वारा नगद राशि स्वीकार की जा रही है। इसको लेकर की तरह की समस्या हो रही है। इस पर सर्वसम्मति से निर्णय किया गया कि अब से निगम द्वारा केवल ₹10 हजार तक की नगद राशि ही स्वीकार की जाएगी, इससे अधिक राशि होने पर संबंधित व्यक्ति को अतिरिक्त राशि निगम के बैंक खाते में ही जमा करवानी होगी जिससे केशलैस लेनदेन को बढ़ावा मिलेगा।

चार्जिंग स्टेशन को लेकर हुई चर्चा

नगर निगम वित्त समिति बैठक में शहर में लगने वाले चार्जिंग स्टेशन को लेकर गहन विचार विमर्श किया गया। समिति अध्यक्षा रुचिका चौधरी ने इस मुद्दे पर उपस्थित सदस्यो को अवगत कराया गया कि शहर में विभिन्न स्थानों पर इलेक्ट्रिक वाहनों हेतु चार्जिंग स्टेशनों का निर्माण करवाया जा रहा है। इसमें निगम अधिकारी रितेश पाटीदार द्वारा आवश्यक कार्यवाही की जा रही है जो अंतिम चरणों में है। निगम द्वारा 11000 केवीए की लाइन कनेक्शन हेतु तय राशि बिजली विभाग को जमा करवा दी गई है। जल्द ही उदयपुर में निगम द्वारा तय किए गए स्थानों पर चार्जिंग स्टेशन शुरू करवा दिए जाएंगे।

नगरीय विकास कर को लेकर हुई चर्चा

नगर निगम वित्त समिति की बैठक में नगरीय विकास कर संग्रहण की वर्तमान स्थिति को लेकर महापौर द्वारा नाराजगी प्रकट की गई। महापौर ने सख्त लहजे में कहा कि कार्यकारी एजेंसी द्वारा लक्ष्य के अनुरूप कार्य संपादित नहीं किया गया है, तय शर्तो पर कार्य नहीं किया जा रहा है। महापौर ने कहा की एजेंसी के साथ निगम द्वारा किए गए अनुबंध की शर्तो की समीक्षा कर विधिक राय लेते हुए अग्रिम कार्रवाई प्रारंभ की जावे तब तक एजेंसी को नोटिस देकर कार्य में प्रगति लाने के निर्देश दिए जाए।

ठेकेदारों को धरोहर राशि दी जाए तय समय में। नगर निगम वित्त समिति की बैठक में महापौर गोविंद सिंह टाक द्वारा निर्देश दिए कि निगम में कार्य करने वाले सभी ठेकेदार को उनकी धरोहर राशि इस समय में दे दी जाए। कई बार ठेकेदार द्वारा इसको लेकर शिकायत भी की जाती है। कार्य संतोषप्रद होने पर राशि रोकना अनुचित है।

आय पर रखा जाएगा विशेष ध्यान

नगर निगम वित्त समिति अध्यक्षा रुचिका चौधरी ने बताया कि नगर निगम द्वारा किए जा रहे कार्यों में व्यय होने के साथ-साथ आय बढ़े इसको लेकर भी बजट में प्रस्ताव लाए जाएंगे। आय एवं खर्च में संतुलन रखना वित्त समिति की पहली प्राथमिकता होगी। जमीनी स्तर पर कार्य नजर आए इसको लेकर नगर निगम का बजट तैयार किया जा रहा है। केवल आंकड़ों को बढ़ाना ही निगम का मानस नहीं रहेगा, धरातल पर होने वाले कार्य भी नगर निगम द्वारा दिखाए जाएंगे। बैठक में सर्वसम्मति से तय किया गया कि आय के अनुरूप ही बजट का निर्माण किया जाए।

बैठक में समिति सदस्य मुकेश शर्मा, करणमल जारोली, कमलेश मेहता, अली असगर, मोनिका गुर्जर, मुख्य लेखा अधिकारी चंद्रप्रकाश तलदार, निगम एस इ मुकेश पुजारी, उप नगर नियोजक सिराजुद्दीन, गैराज अधीक्षक लक्षण लाल बैरवा, स्वास्थ्य अधिकारी सत्यनारायण शर्मा, जिला परियोजना अधिकारी सेल सिंह, पुस्तकालयाध्यक्ष भगवत सिंह राव, कनिष्ठ लेखाकार दिलीप सिंह एवं सहायक प्रशासनिक अधिकारी पवन कोठारी भी उपस्थित थे।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal