10 दिव्यांगजनों को निःशुल्क दी बैटरी चालित स्कूटी की चाबी

10 दिव्यांगजनों को निःशुल्क दी बैटरी चालित स्कूटी की चाबी

चाबी मिलते ही चेहरे पर आई मुस्कराहट

 
i

उदयपुर। असम के राज्यपाल गुलाबचन्द कटारिया ने रविवार शाम महावीर विकलांग सहायता समिति  के कार्यक्रम में 10 दिव्यांगजनों को निशुल्क बैटरी चलित स्कूटी की चाबी दी।

कटारिया ने कहा की हर अच्छे कार्य की शुरूआत अन्तर्मन की आवाज सुन कर करनी चाहिये। उस कार्य की शुरूआत होने के बाद बाहरी शक्तियां अपने आप उसके साथ जुड़कर उस कार्य को सफलता के अंजाम तक पंहुचा देती है। बता दे, पूर्व शहर विधायक कटारिया मद से प्राप्त सहयोग राशि से स्कूटी खरीदी गई थी। उन्होंने कहा कि भगवान महावीर विकलांग सहायक समिति पिछले 48 वर्षो से दिव्यंगजनों की जो सहायता कर रही है। उसका सम्मान होना चाहिये। ऐसे कार्यो में शरीक हो कर हमें उन कार्येा की अनुमोदन करना चाहिये। यह कार्यक्रम मेवाड़ मोटर्स गली स्थित जिनदत्तसूरी धर्मशाला समिति में हुआ ।

कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में
कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रूप में

राज्यपाल कटारिया ने कार्यक्रम में अपने कार्यकालको याद करे हुए कहा कि समिति को पूर्व में भी फिजियोथैरेपी के लिये निगम की ओर से सामुदायिक केन्द्र उपलब्ध करवाया गया । ताकि वहां लोगों को फिजियोथैरेपी की सुविधा आसानी से मिल सकें। उन्होंने कहा कि जब मैं शिक्षा मंत्री था, तब 90 प्रतिशत सरकारी अनुदान से संचालित अंध विद्यालयों को पूर्णतया सरकारी विद्यालयों में परिवर्तित कर शिक्षकों व बच्चों की मदद की थी।

1975 में तत्कालीन जिला कलेक्टर पी.एन.भण्डारी ने इस समिति की स्थापना की थी

समिति अध्यक्ष राज लोढ़़ा ने समिति की 48 वर्षो की यात्रा की जानकारी देते हुए कहा कि कहा कि 1975 में तत्कालीन जिला कलेक्टर पी.एन.भण्डारी ने इस समिति की स्थापना की थी। उसके बाद से समिति ने इस क्षेत्र में अनेक शिविरों के माध्यम से हजारों दिव्यांगजनों की सहायता की। देश में अनेक स्थानों पर इस समिति द्वारा सहायता उपलब्ध करायी जाती है। इस अवसर पर गजेन्द्र भंसाली समिति सचिव वर्द्धमान मेहता आदि मौजूद थे। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal