21,500 फीट की ऊंचाई से शीतल ने लगाई ऐतिहासिक छलांग

21,500 फीट की ऊंचाई से शीतल ने लगाई ऐतिहासिक छलांग

शीतल बनी इतनी ऊंचाई से छलांग लगाने वाली देश की पहली महिला

 
skydiver sheetal mahajan

23,नवंबर। एंडवेंचर और स्पोर्ट की दुनिया में अलग-अलग क्षेत्रों में बड़ा मुकाम हासिल कर रहे हैं। कुछ इसी तरह भारत की प्रसिद्ध स्काइडाइवर शीतल महाजन ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। उन्होंने अपने नाम नया रिकॉर्ड दर्ज कराया है। शीतल ने माउंट एवरेस्ट के सामने 21,500 फीट की ऊंचाई से हेलीकॉप्टर से छलांग लगाने वाली दुनिया की पहली महिला बन गई हैं। 

 21,500 फीट से की स्काइडाइविंग

शीतल न केवल एक अनुभवी स्काइडाइवर हैं, बल्कि भारत के चौथे सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार प्रतिष्ठित पद्मश्री से सम्मानित और कई स्काइडाइविंग रिकॉर्ड धारक 41 वर्षीय महाजन ने 13 नवंबर को दुनिया की सबसे ऊंची चोटी माउंट एवरेस्ट के सामने से छलांग लगाई। छलांग के बाद वह कालापत्थर में 17,444 फीट की ऊंचाई पर उतरीं। अपने नाम स्काईडाइविंग रिकॉर्ड की श्रृंखला के साथ, शीतल ने लगातार अपने खेल में सीमाओं को आगे बढ़ाया है। शीतल ने कहा कि यह उनकी सबसे उमदा छलांग है। 

इस तरह मेहनत लाई रंग 

माउंट एवरेस्ट के पास अभूतपूर्व छलांग लगाने से दो दिन पहले, शीतल ने एवरेस्ट क्षेत्र में उच्च ऊंचाई वाले स्काइडाइव की एक श्रृंखला शुरू की। 11 नवंबर को, उसने जमीनी स्तर से 5,000 फीट ऊपर से अपनी पहली छलांग लगाई, 17,500 फीट की आश्चर्यजनक ऊंचाई तक पहुंची और स्यांगबोचे हवाई अड्डे पर 12,500 फीट की ऊंचाई पर कुशलतापूर्वक उतरी।

अगले दिन, 12 नवंबर को, शीतल महाजन ने स्यांगबोचे हवाई अड्डे पर 8,000 फीट से झंडा फहराया। स्काइडाइविंग के दिग्गज वेंडी एलिजाबेथ स्मिथ और नादिया सोलोयेवा के साथ, उन्होंने एक महिला द्वारा सबसे ऊंचे फ्लैग स्काइडाइविंग लैंडिंग का राष्ट्रीय रिकॉर्ड हासिल किया, जिससे उनकी उपलब्धियों की पहले से ही प्रभावशाली सूची में एक और प्रशंसा जुड़ गई। माउंट एवरेस्ट के पास 21,500 फीट से स्काइडाइविंग करने वाली पहली महिला बनकर, उन्होंने अनगिनत व्यक्तियों को निडर होकर अपने जुनून को आगे बढ़ाने के लिए प्रेरित किया है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal