जावर क्षेत्र में जारी पेंथर ऑपरेशन में मिली सफलता

जावर क्षेत्र में जारी पेंथर ऑपरेशन में मिली सफलता

वन विभाग ने पकड़ा नर पेंथर

 
panther rescue

डीएफओ सैनी ने बताया कि पेंथर को रेस्क्यू करने के लिए विभाग द्वारा 5 ट्रेन्क्यूलाईज टीमें गठित की थी

उदयपुर, 8 जुलाई 2021 । जिले के जावर क्षेत्र में गत दिनों से पेंथर की हलचलों से प्रभावित हो रहे जनजीवन के बाद वन विभाग द्वारा चलाये गए पेंथर ऑपरेशन के तहत गुरुवार को सफलता मिली।

उप वन संरक्षक मुकेश सैनी ने बताया कि बुधवार रात्रि को मामादर्रा क्षेत्र, जहां गत 2 जून को पेंथर ने हमला कर एक महिला को मार दिया था, वाले क्षेत्र में वन विभाग द्वारा लगाए गए पिंजरे में यह पेंथर पकड़ में आया। यह नर पेंथर लगभग 8 से 10 वर्ष का है। इसके ऊपर के बांयी ओर का केनाईन (शिकारी दांत) टूटा हुआ है। पेंथर के केनाईन टूटे होने से उसे शिकार करने में परेशानी होने के कारण मानव पर हमला करने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं। 

उन्होंने बताया कि पकडे़ गए पेंथर को सज्जनगढ़ बॉयो पार्क में पशु चिकित्सक की देख-रेख में रखा गया है तथा उच्च अधिकारियों के निर्देशानुसार अग्रिम कार्यवाही की जाएगी।  

इस तरह चला ऑपरेशन पेंथर

डीएफओ सैनी ने बताया कि पेंथर को रेस्क्यू करने के लिए विभाग द्वारा 5 ट्रेन्क्यूलाईज टीमें गठित की थी, जिसमें उदयपुर वन्यजीव, चित्तौड़गढ़ वन्यजीव, राजसमन्द व जयपुर की टीमें शामिल थी। इसके अतिरिक्त 3 गश्ती दल की टीमें तथा ट्रेप केमरा व पिंजरों की मॉनिटरिंग हेतु भी अलग-अलग टीमें गठित की गई। जिसमें वन विभाग के अधिकारी सुशील कुमार सैनी, कन्हैया लाल शर्मा, सुरेन्द्र सिंह शेखावत सहित रेंज सराडा, परसाद व सलूंबर का 45 का स्टाफ शामिल रहा। 

ग्रामीणों को घर पर दरवाजा बंद कर सोने, अकेले जंगल में नहीं जाने, बच्चों को जंगल में नहीं भेजने इत्यादि के संबंध में जागरूक करने हेतु हिन्दुस्तान जिंक लिमिटेड द्वारा वाहन उपलब्ध कराकर सहयोग किया गया। पेंथर को पकड़ने के लिए जयपुर के वरिष्ठ पशु चिकित्सक डॉ.अरविन्द माथुर को बुलाया गया। पुलिस विभाग उदयपुर द्वारा क्षेत्रों में दो ड्रोन उडाये गए ताकि पेन्थर की लोकेशन का पता चल सके। इसके तहत 10 पिंजरें व 12 ट्रेप केमरा भी अलग-अलग क्षेत्रों में लगाये गये।

गौरतलब है कि 2 जून को वनखण्ड जावर सिंघटवाडा-बी में मामादर्रा, नाका बाजार के सामने रेल्वे ट्रेक के पास श्रीमती केसरी देवी पत्नि हलिया मीणा पर एक पेन्थर ने हमला किया, जिससे उसकी मृत्यु हो गई। इसी प्रकार 25 जून को सिंघटवाड़ा के पन्नाफला की श्रीमती अमरी देवी पत्नि मंगला मीणा, पर घर पर सोते हुए हमला कर मार दिया वहीं एक तालाबफला निवासी महिला तथा एक नेवातलाई निवासी बालिका पर भी हमला कर पेंथर ने घायल किया, जिनका उपचार जारी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal