टोल नाका की अवधि 6 जुलाई 2021 को ही समाप्त, फिर भी वसूल रहे जनता से टोल


टोल नाका की अवधि 6 जुलाई 2021 को ही समाप्त, फिर भी वसूल रहे जनता से टोल

उदयपुर-बांसवाड़ा के बीच करीब 5 हजार वाहन रोज निकलते है

 
Stretch of Udaipur-Pindwara highway to be brought under Toll
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर, 4 दिसंबर। उदयपुर शहर से बांसवाड़ा की दूरी 165 किमी है और इस दूरी में 5 टोल नाके हैं। इसमें भी खास बात यह है कि सलूंबर से आसपुर के बीच स्थित खोलड़ी टोल नाका की अवधि 6 जुलाई 2021 को ही खत्म हो गई। इसके बावजूद पिछले दो साल से उसका संचालन हो रहा है। वहां आज भी वाहन चालकों से टोल वसूला जा रहा है। जनता का भारी विरोध है, लेकिन सरकारी एजेंसिंया चुप है। इस क्षेत्र से गुजरने वाले लोगों का कहना है कि कोई भी कारण हो लेकिन टोल प्लाजा की अवधि निकल गई तो अब टोल लेना ठीक नहीं है।

यह सब तब है, जबकि नवंबर 2021 में तत्कालीन एसडीएम ने इस मामले को लेकर बांसवाड़ा पीडब्ल्यूडी के एसई को पत्र लिखकर इस टोल को तत्काल बंद करने को कहा था। इसके बावजूद अब तक कोई कार्रवाई नहीं हुई। 

उदयपुर-बांसवाड़ा के बीच करीब 5 हजार वाहन रोज निकलते है

यह टोल शुल्क चौपहिया वाहन कार-जीप का है। भारी वाहन इसमें शामिल नहीं। एक टोल की अवधि 2 साल पहले खत्म, फिर भी अब तक चल रहा। 

1. उदयपुर से निकलते ही 13 किमी की दूरी पर पहला टोल डाकन कोटड़ा  शुल्क 55     रुपए।
2. डाकन कोटड़ा से आगे 47 किमी पर दूसरा टोल खेराड़ में   60 रुपए।
3. खेराड़ से 19 किमी दूर खोलड़ी (बांसवाड़ा) में तीसरा टोल    55 रुपए।
4. खोलड़ी से पिंडावल डूंगरपुर (बांसवाड़ा एसई) 35 किमी की दूरी पर चौथा टोल पिंडावल में   50 रुपए।
5. पिंडावल से 41 किमी की दूरी पर पांचवां टोल बांसवाड़ा के बड़लिया में    45 रुपए।

बांसवाड़ा के पीडब्ल्यूडी के एसई राजेश मोदी का कहना है कि मेरा हाल ही में बांसवाड़ा एसई पद पर तबादला हुआ है। बांसवाड़ा से जुड़ा यह पहला इश्यू सामने आया है। इसके दस्तावेजों की जांच करवाकर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। पहले पता लगाएंगे कि आखिर टोल अवधि खत्म होने के बाद अब तक टोल क्यों नहीं हटा? अवधि बढ़ाई है तो क्यों? इन सभी से जुड़े दस्तावेजों की जांच कर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal