अर्बन 95 उदयपुर किड्स फेस्टिवल का उद्घाटन


अर्बन 95 उदयपुर किड्स फेस्टिवल का उद्घाटन

उत्साह: पहले दिन 2000 से अधिक ने की शिरकत 

 
kids festival
UT WhatsApp Channel Join Now

कहीं बच्चे एक साथ बैठकर कहानी सुन रहे थे तो कहीं पेड़ों की टहनियों से लटकी रंग बिरंगी मज़ेदार किताबें पढ़ रहे थे। एक कोने में जहाँ कुम्हार बच्चों को सधे हाथों से चाक पर खिलौने बनाना सिखा रहा था तो जादूगर अपने करतबों से बच्चों का मन बहला रहा था। एक जगह बच्चे रस्सी पर सीधे क़दमों से चलना सीख रहे थे तो एक तरफ कठपुतलियां बच्चों के साथ बातें कर रही थी। ये दृश्य था शहर के टाउन हॉल स्थित नेहरु बाल उद्यान में आयोजित हो रहे तीसरे अर्बन 95 उदयपुर किड्स फेस्टिवल का; जहाँ बच्चे अपने अभिभावकों और स्कूली शिक्षकों के साथ खेल खेल में सीख रहे थे.

नगर निगम और बर्नार्ड वेन लीयर फाउंडेशन के संयुक्त तत्वावधान में इकली साउथ एशिया और इकोरस इण्डिया के तकनीकी सहयोग से शनिवार से शुरू हुए दो दिवसीय अर्बन 95 उदयपुर किड्स फेस्टिवल की शुरुआत महापौर गोविन्द सिंह टांक के हाथों हुई। इस दौरान उपमहापौर पारस सिंघवी, आयुक्त मयंक मनीष, बर्नार्ड वेन लीयर फाउंडेशन की भारत प्रतिनिधि इप्शिता सिन्हा  और अर्बन 95 कार्यक्रम प्रबंधक अमित उपाध्याय आदि मौजूद रहे।  

इस अवसर पर महापौर टांक ने कार्यक्रम के उद्देश्यों पर प्रकाश डालते हुए कहा कि आज की भागदौड़ भरी ज़िन्दगी में अभिभावक बच्चों को पर्याप्त समय नहीं दे पाते, वहीँ बच्चे भी अपना बचपन मोबाइल और टीवी स्क्रीन पर ही ज्यादा बिताते हैं। ऐसे में यह फेस्टिवल बच्चों और उनके अभिभावकों को घर से बाहर प्राकृतिक वातावरण में साथ साथ समय बिताने और विभिन्न गतिविधियों में भाग लेने के लिए प्रेरित करेगा।  

उप महापौर पारस सिंघवी ने कहा कि निगम का प्रयास है कि शहर को हर आयुवर्ग के अनुसार संवारा जाए। शहर का विकास इस तरह से हो कि छोटे बच्चे और उनके अभिभावक घर से बाहर निकलते समय सुरक्षित महसूस करे। शहर के पार्क, गलियां, सडकें, फुटपाथ आदि को बच्चों के अनुसार तैयार किये जाने की ज़रूरत है। उपमहापौर ने ऐसा आयोजन हर साल होने की आवश्यकता जताई। 

निगम आयुक्त मयंक मनीष ने कहा कि निगम द्वारा अर्बन 95 के सहयोग से बच्चों के लिए एक अच्छा मंच उपलब्ध करवाया है। यहाँ बच्चे मिट्टी में खेलकर स्वाभाविक रूप से खेल रहे हैं, कहानियां सुन रहे हैं और बहरूपिया के साथ मस्ती कर रहे हैं। यह शहर के लिए एक अच्छा अवसर है कि छोटे बच्चों को लेकर वे इस फेस्टिवल में आये सीखे कि बच्चों को किस प्रकार खेल खेल में शिक्षा दी जा सकती है तथा पॉजिटिव पेरेंटिंग और बेहतर देखभाल कैसे की जा सकती है।  

इस से पूर्व अर्बन 95 टीम ने अतिथियों का स्वागत किया और उन्हें किड्स फेस्टिवल के बारे में विस्तार से जानकारी दी। इस दौरान अतिथियों को अलग अलग कियोस्क में ले जाकर सम्बंधित गतिविधि और उसके उद्देश्यों के बारे में बताया गया।  

पहले दिन 2000 से अधिक ने लिया भाग 

फेस्टिवल के पहले दिन लगभग 2000 से अधिक बच्चों और उनके अभिभावकों ने फेस्टिबल में भाग लिया। इस दौरान शहर की 18 प्ले स्कूल, 75 आंगनवाडी केंद्र के बच्चे भी फेस्टिवल में आये। बच्चों ने क्ले आर्ट, मेजिक शो, कठपुतली, ट्रेफिक पार्क, चित्रकारी, पज़ल गेम्स में बहुत रूचि दिखाई। इस दौरान चिकित्सा स्वास्थ्य विभाग की ओर से सभी बच्चों की वृद्धि निगरानी करते हुए उनका हेल्थ कार्ड बनाया गया। अभिभावकों के लिए भी विभिन्न रोचक खेल गतिविधियाँ आयोजित की गयी। गृह विज्ञान महाविद्यालय की टीम ने डॉ. स्नेहा के निर्देशन में बच्चों के साथ विभिन्न शारीरिक और मानसिक खेल गतिविधियाँ और स्टोरी टेलिंग आयोजित की।  

पश्चिम क्षेत्र सांस्कृतिक केंद्र के कलाकारों ने बहरूपिया, कठपुतली और मृण कला की स्टाल लगायी गयी, जहाँ बच्चों ने काफी मस्ती की। पैरेंट प्लस, पुणे की टीम द्वारा सकारात्मक लालन-पालन पर जानकारी शेयर की गयी।  आंगनवाडी केंद्र के बच्चों को लाने ले जाने के लिए निगम की ओर से बसों की व्यवस्था की गयी, जबकि सभी बच्चों के लिए नाश्ता भी था। . 

कल आखिरी दिन 

दो दिवसीय अर्बन 95 उदयपुर किड्स फेस्टिवल का आज आखिरी दिन है। सुबह 10 बजे से शाम 6 बजे तक फेस्टिवल में छोटे बच्चे और उनके अभिभावक भाग ले सकेंगे। समेकित बाल विकास की ओर से प्रातः कालीन सत्र में देवाली, फतहपुरा, हिरणमगरी, सुन्दरवास, प्रताप नगर, टेकरी, आयड, गोवर्धन विलास क्षेत्र के आंगनवाडी केन्द्रों के बच्चे भाग लेंगे। इसके लिए बाल विकास अधिकारी (शहरी) की ओर से विस्तृत प्लान बनाया गया है। इसी के साथ प्रातः कालीन सत्र में निजी प्ले स्कूल भी भाग लेंगे। 5 साल तक के अभिभावक अपने बच्चों के साथ इस आयोजन में भाग ले सकते हैं। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal