अंतिम ओवर की आखिरी बॉल पर तय होगा वल्लभनगर का फैसला

अंतिम ओवर की आखिरी बॉल पर तय होगा वल्लभनगर का फैसला

धरियावद में भी कांटे के टक्कर के आसार

 
vallabhnagar

विधानसभा उपचुनाव - 2021 वल्लभनगर एवं धरियावद विधानसभा क्षेत्रों के लिए मतगणना कल 

उदयपुर 1 नवंबर 2021। इन दिनों मेवाड़ में दो ही चर्चा चल रही है एक तो T20 वर्ल्ड कप में टीम इंडिया का प्रदर्शन और दूसरा वल्लभनगर धरियावद सीटों का उपचुनाव। वल्लभनगर (उदयपुर) एवं धरियावद (प्रतापगढ़) विधानसभा क्षेत्रों के लिए 30 अक्टूबर को सम्पन्न हुए चुनाव की मतगणना 02 नवम्बर को सम्बन्धित जिला मुख्यालयों पर प्रातः 08ः00 बजे से की जाएगी। भारत निर्वाचन आयोग ने कोरोना सम्बन्धी गाईड़लाईन के साथ सभी जिला निर्वाचन अधिकारियों को आवश्यक दिशा-निर्देश भी जारी कर दिए गए हैं।

वल्लभनगर - पलड़ा कहीं भी झुक सकता है 

सबसे पहले बात वल्लभनगर की तो यह उपचुनाव प्रदेश की हॉट सीट बना हुआ है।  चतुष्कोणीय मुकाबले में सेहरा किस के सर बंधेगा उसका पता तो कल चल ही जायेगा। लेकिन चुनावी चर्चाओं के बीच इसकी मतगणना क्रिकेट के मैच से भी ज़्यादा रोमांचक रहने वाली है।  फैसला मैच की आखिरी बॉल पर ही होना तय है। जहाँ शुरुआत में कांग्रेस और जनता सेना के बीच मुकाबला था वहीँ अचानक से भाजपा से बागी होकर आरएलपी का दामन थामने वाले उदयलाल डांगी ने मुकाबले को बेहद रोचक बना डाला है। पलड़ा कहीं भी झुक सकता है। 

हालाँकि कयास तो यही लगाया जा रहा है की चतुष्कोणीय मुकाबले में कांग्रेस बढ़त हासिल कर सकती है लेकिन नतीजे आने से पहले किसी भी राजनैतिक पंडित के लिए इस सीट के परिणाम का कयास लगाना मुश्किल है। मुमकिन है कल सुपर ओवर भी देखने को मिल जाये।      

नतीजा क्या रहेगा इस पर से पर्दा कल उठ जायेगा लेकिन कल का नतीजा सभी प्रत्याशियों का राजनितिक भविष्य तय करने वाला रहेगा। तीसरे या चौथे नम्बर पर रहने वाले प्रत्याशी का राजनैतिक कैरियर हमेशा के लिए चौपट कर सकता है। आरएलपी के उदयलाल ने दोनों राष्ट्रीय पार्टियों कांग्रेस /भाजपा और वल्लभनगर भिंडर क्षेत्र की जनता सेना की जान सांसत में डाल रखी है। हालाँकि भाजपा के पास यहाँ खोने को कुछ नहीं है। लेकिन कांग्रेस और जनता सेना का यहाँ बहुत कुछ दांव पर लगा हुआ है। प्रीति के साथ साथ उदयलाल के पक्ष में भी सहानुभूति ज़रूर उमड़ी है। यदि उदयलाल के पक्ष में ओबीसी मत एकजुट हुए और राजपूत/रावत/सवर्ण मतों को बिखराव हुआ तो नतीजा बेहद चौंकाने वाला हो सकता है। तीनो बड़ी पार्टियों के सवर्ण उम्मीदवार होने से बिखराव होना संभव है।   

धरियावद में भी कांटे की टक्कर के आसार 

धरियावद में भी टक्कर कांटे की नज़र आ रही है।  भाजपा का पलड़ा यहाँ थोड़ा भारी नज़र आ रहा है।  लेकिन मुख्यमंत्री अशोक गहलोत समेत कांग्रेस के नेताओ के ताबड़तोड़ दौरे, भाजपा से दिवंगत विधायक के बेटे कन्हैयालाल मीणा की टिकट कटने और बीटीपी के बागी थावरचंद की सक्रियता ने यहाँ भी मुकाबले को दिलचस्प बना दिया है।  ऐसे में यहाँ भी परिणाम चौंकाने वाला आ सकता है।  बीटीपी के बागी थावरचंद ने किस पार्टी को कितना नुकसान पहुँचाया है इसका परिणाम कल आ जाएगा।   

जिला मुख्यालयों पर होगी मतगणना

मुख्य निर्वाचन अधिकारी प्रवीण गुप्ता ने बताया कि वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र के लिए उदयपुर जिला मुख्यालय पर मोहनलाल सुखाडि़या विश्वविद्यालय कैम्पस व धरियावद विधानसभा क्षेत्र के लिए प्रतापगढ़ जिला मुख्यालय के राजकीय सीनियर सैकेण्डरी विद्यालय, नीमच नाका पर मतगणना प्रातः 8 बजे से प्रारम्भ होगी।

उन्होंने बताया कि वल्लभनगर विधानसभा के मतों की गणना 23 राउण्ड एवं धरियावद विधानसभा के मतों की गणना 24 राउण्ड में पूर्ण होगी। वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र में 80 वर्ष से ऊपर के अनुपस्थित मतदाता, अनुपस्थित दिव्यांग मतदाता, सर्विस वोटर व पोलिंग स्टाफ श्रेणियों में कुल 1186 डाक मतपत्र जारी किए गए थे, जिसमें से 1049 डाक मतपत्र प्राप्त हुए। धरियावद विधानसभा क्षे़त्र के लिए उक्त चारों श्रेणियों में 300 डाक मतपत्र जारी किए गए थे, जिसमें से कुल 285 डाक मतपत्र प्राप्त हुए हैं। डाक मतपत्रों की गणना रिटर्निंग अधिकारी के कक्ष में की जाएगी।

वेबसाईट पर मिलेंगे मतगणना के रुझान और परिणाम:

गुप्ता ने बताया कि मतगणना प्रारम्भ होने के बाद राउण्ड वाईज रुझान व परिणाम निर्वाचन विभाग की वेबसाईट सीईओराजस्थान डॉट एनआईसी डॉट इन के होमपेज पर देखे जा सकेंगे। मतगणना समाप्ति के पश्चात बूथ वाईज परिणाम भी विभाग की वेबसाईट के फॉर्म-20 के अन्तर्गत आमजन के लिए उपलब्ध होंगे।

ईवीएम के लिए कड़ी सुरक्षा

स्वंतत्र, निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव के लिए मतदान में प्रयुक्त ईवीएम, मतगणना स्थल पर स्ट्रांग रूम में त्रिस्तरीय कड़ी सुरक्षा में रखी गयी है। श्री गुप्ता ने जिला निर्वाचन अधिकारी एवं जिला पुलिस अधीक्षक को समय पर मतगणना स्थल का भ्रमण कर पुख्ता सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं। त्रिस्तरीय सुरक्षा च्रक में सीएपीएफ, एसएपीएफ और स्थानीय पुलिस की तैनातगी की गई है।

सुरक्षित मतगणना के लिए दिशा-निर्देश जारी:

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतगणना स्थल पर सभी आवश्यक व्यवस्थाएं जैसे मतगणना स्थल का एक दिन पूर्व सेनेटाईजेशन, हेल्पडेस्क की व्यवस्था, मतगणना स्थल पर थर्मल स्कैनर, फेस शील्ड, हैण्ड ग्लव्ज, साबुन व सेनेटाईजर, महिला मतगणना कर्मियों के लिए पृथक से टॉयलेट की व्यवस्था की जाएगी। उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल के प्रमुख प्रवेश द्वार पर अधिक संख्या में व्यक्ति एकत्रित नही हों इसलिए मुख्य द्वार पर 2-3 जगह डोर फ्रेम मेटल डिटेक्टर लगाए जाएंगे। मतगणना स्थल के प्रत्येक प्रवेश द्वार पर थर्मल स्कैनिंग के लिए चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के अनुभवी कार्मिकों की नियुक्ति की जाएगी। मतगणना स्थल पर सोशल डिस्टेंसिंग के सभी निर्देशों की पालना की जाएगी।

मतगणना हॉल में नियुक्त किए गए मतगणना पर्यवेक्षक, मतगणना सहायक, माइक्रो पर्यवेक्षक तथा उम्मीदवार, चुनाव एजेन्ट, मतगणना एजेन्ट एवं उनके साथ-साथ रिटर्निंग अधिकारी, सहायक रिटर्निंग अधिकारी सहित सभी कर्मचारी मास्क, फेस शील्ड पहनकर अपने कार्य को सम्पादित करेंगे।
 

उन्होंने बताया कि मतगणना स्थल को मतगणना से एक दिन पूर्व, मतगणना के दिन प्रातः 5 बजे एवं मतगणना उपरान्त सायं 6 बजे सेनेटाईज किया जाएगा। मतगणना स्थल पर सभी कार्मिकों के लिए कम से कम एक टीका या आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट होगी जरुरी। श्री गुप्ता ने बताया कि मतगणना स्थल पर उम्मीदवार, चुनाव अभिकर्ता, पोलिंग एजेन्ट, काउंटिंग एजेन्ट, वाहन चालक एवं अन्य सभी जिनको पहला टीका लग चुका है और द्वितीय टीके के लिए पात्र नही है, उन्हें मतगणना दिवस से 72 घण्टे पूर्व की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट के साथ मतगणना हॉल में प्रवेश की अनुमति दी जाएगी। यदि किसी को पहला टीका भी नहीं लगा है तो मतगणना दिवस से 48 घण्टे पूर्व की आरटीपीसीआर नेगेटिव रिपोर्ट देनी होगी।

मीडियाकर्मियों के लिए मीडिया कक्ष की रहेगी व्यवस्था

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि मतगणना स्थल पर मीडियाकर्मियों को मतगणना के रुझानों की जानकारी देने के लिए मीडिया कक्ष निर्धारित किया गया है। मीडिया कक्ष के माध्यम से मतगणना  सम्बन्धित सभी सूचना मीडि़याकर्मियों को मिलती रहेगी। मतगणना स्थल के बाहर तथा मीडिया कक्ष में एलसीडी स्क्रीन पर मतगणना रुझान नियमित रुप से प्रदर्शित किए जाएंगे। मतगणना स्थल पर मीडियाकर्मियों के प्रवेश के प्राधिकार पत्र पूर्व में ही जारी किए जा चुके हैं।

विजयी जुलूस की नहीं होगी अनुमति

गुप्ता ने बताया कि चुनाव परिणाम की घोषणा के बाद विजयी उम्मीदवार द्वारा किसी भी प्रकार के जुलूस, रैली व समारोह की अनुमति नहीं होगी। उन्होनें कहा कि रिटर्निंग अधिकारी से चुनाव का प्रमाण-पत्र प्राप्त करने के लिए विजयी उम्मीदवार के साथ केवल 2 व्यक्तियों के प्रवेश की ही अनुमति होगी।
 

उल्लेखनीय है कि वल्लभनगर (उदयपुर) से 9 और धरियावद (प्रतापगढ़) से 7 कुल 16 प्रत्याशियों के लिए 30 अक्टूबर को मतदान हुआ। वल्लभनगर में लगभग 71.72 प्रतिशत एवं धरियावद में लगभग 69.10 प्रतिशत मतदान हुआ। दोनों विधानसभा क्षेत्रों में मतदान प्रतिशत लगभग 70.40 रहा। वल्लभनगर के 310 मतदान केन्द्रों व धरियावद के 328 मतदान केन्द्रो सहित कुल 638 मतदान केन्द्रों पर वोट डाले गये।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  WhatsApp |  Telegram |  Signal

From around the web