शहर के मोहल्लों, घाटियों, दरवाजों का इतिहास होगा लिपिबद्ध

शहर के मोहल्लों, घाटियों, दरवाजों का इतिहास होगा लिपिबद्ध

सिटी पैलेस से हाथी पोल, घंटाघर से सूरजपोल तक जल्द ही शुरू नाम लिखने का कार्य 

 
hathipole gate

उदयपुर,9 दिसंबर। पुराना शहर किसी भी कस्बे, राजधानी, नगर की आत्मा होता है। यह उस शहर की उम्र बताता है और इतिहास को दर्शाता है। नगर निगम शहर के सभी मोहल्लों, घाटियों, दरवाजों का इतिहास लिपिबद्ध करवाएगा। इसमें पूर्व में नामकरण किस आधार पर किया गया, क्या इतिहास रहा, इसकी पूरी जानकारी आने वाली पीढ़ी के साथ-साथ पर्यटकों को भी मिल सकेगी।

शुक्रवार को महापौर गोविंद सिंह टाक और उपमहापौर पारस सिंघवी की अध्यक्षता में हुई बैठक में शहर की विरासत के संरक्षण को लेकर इतिहासकारों के साथ विचार-विमर्श किया गया। मेयर टांक ने कहा कि सिटी पैलेस से हाथी पोल, घंटाघर से सूरजपोल तक सभी मोहल्लों व घाटियों के नाम लिखने का कार्य जल्द ही प्रारंभ किया जाएगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal