फूलों से नहीं इन्हे काँटों से है दोस्ती

फूलों से नहीं इन्हे काँटों से है दोस्ती

न्यूरोलॉजिस्ट सर्जन डॉ तरुण गुप्ता ने अपने घर में सजाए है 1000 से ज़्यदा किस्म के केक्टस

 
Cactus Lover

जब भी कहीं सजावट का ख्याल आता हैं चाहे वह घर हो या दफ्तर या कोई अन्य सामाजिक कार्यक्रम में स्टेज या मंच सजाना हो तो लोगों के ज़हन में अक्सर रंग बिरंगे खूबसूरत फूलों का ख्याल आता हैं। लेकिन उदयपुर के एक ऐसे डॉक्टर भी हैं जिन्होंने अपने घर को फूलों की जगह कांटों सें सजा रखा है उनके इस घर को देखकर हर कोई दंग रह जाता है।

आपको बता दें की ऐसा अजीबो गरीब शौक रखने वाले डॉक्टर कोई और नहीं बल्कि शहर के जाने माने मशहूर न्यूरोलॉजिस्ट सर्जन डॉ तरुण गुप्ता हैं। डॉक्टर तरुण गुप्ता के घर पर करीब 1000 से ज्यादा कैक्टस के पौधे की किस्मे मौजूद है। इन कैक्टस के पौधों को देखकर हर कोई हैरान रह जाता है, डॉक्टर तरुण गुप्ता ने इन को संजोने के लिए करीब 15 लाख रुपए तक खर्च किए हैं। उनका कहना है कि इन पर जब फूल खिलते हैं तो उन्हें जो सुकून मिलता है वह उन्हें अल्फाजों में बयां नहीं कर सकते।

रिटायर्ड न्यूरोलॉजिस्ट डॉक्टर तरुण गुप्ता ने बताया कि शहर में उनका तीन मंजिला मकान है वहां पर यह 1000 से ज्यादा वैरायटी के कैक्टस के पौधे मौजूद है इन्हे इकट्ठा करने में उन्हें 8 साल का समय लगा और ये सिलसिला लगातार जारी हैं। इन पौधों को देखकर हर कोई हैरान रह जाता है। 

जब वह अस्पताल में नौकरी किया करते थे तभी से ही उन्होंने कैक्टस को मंगवाना शुरू किया था।  इसके बाद एक-एक करके करीब 1000 से ज्यादा पौधे उनके यहां पर आज मौजूद है। घर के हर हिस्से में छोटे-बड़े पोट्स में आपको कैक्टस की विभिन्न तरह की वैराइटीज देखने को मिल जाएगी। 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal