जनता सेना 6 जून से निकालेगी जनसंवाद यात्रा

जनता सेना 6 जून से निकालेगी जनसंवाद यात्रा

कांग्रेस की नहीं बनेगी सरकार, परेशान जनता की वेदना सुनने हम जायेंगे गांव-गांव - रणधीर सिंह भीण्डर

 
janata sena
70 दिनों में 700 गांव जाएंगे

उदयपुर 3 जून 2023। जनता सेना संरक्षक व पूर्व विधायक रणधीर सिंह भीण्डर ने प्रेसवार्ता करते हुए कहा कि प्रदेश में कांग्रेस की सरकार नहीं बनेगी और 25-30 सीटों में सिमट जायेगी। वहीं उन्होंने कहा कि इस सरकार से परेशान जनता की वेदना सुनने के लिए हम 6 जून से यात्रा लेकर गांव-गांव जायेंगे, जन संवाद यात्रा करीब 70 दिनों तक 700 गांवों में जायेगी। प्रेसवार्ता के दौरान प्रदेश संरक्षक मांगीलाल जोशी, भीण्डर पंचायत समिति प्रधान हरिसिंह सोनीगरा, प्रदेश महामंत्री पारस नागौरी आदि उपस्थित थे।

जनसंवाद यात्रा 2023

भीण्डर ने कहा कि नेता चुनाव हो या सार्वजनिक कार्यक्रम गांव-शहरों में जाकर मंचों से अपनी बात कहकर चले जाते है। लेकिन जनता को अपनी आवाज सुनाने के लिए दौड़ लगानी पड़ती है। इसलिए जनता सेना राजस्थान ने तय किया कि वल्लभनगर विधानसभा में एक यात्रा निकाली जाएं, जिसमें आमजन से सीधा संवाद हो सकें। यात्रा में आमजन उनके गांव-क्षेत्र की समस्याओं, सरकारी योजनाओं का लाभ नहीं मिलने की समस्या सहित विभिन्न पहलुओं पर हमसे चर्चा करते हुए उनके निराकरण के लिए एक योजनाबद्ध तैयारी की जाएं। इसलिए हमने यात्रा का नाम जनसंवाद यात्रा 2023 रखा है।

यात्रा की शुरूआत 6 जून मंगलवार से वल्लभनगर विधानसभा के पीथलपुरा पंचायत के अरनिया गांव से करेंगे। यात्रा करीब 70 दिन तक चलेगी, जिसमें हम विधानसभा के प्रत्येक गांव-ढाणी में जाकर आमजन से मिलेंगे। इस यात्रा में करीब 700 गांव-ढाणी में जाना तय किया है। आमजन की सुविधा को देखते हुए प्रतिदिन शाम से रात्रि के समय ही गांव में यात्रा लेकर पहुंचेंगे। जिससे गांव के चबुतरों, मन्दिरों और घर के आंगन में आमजन के साथ बैठकर उनसे संवाद कर सकें।

यात्रा के दौरान अगर किसी व्यक्ति या परिवार को निजी सरकारी योजनाओं का लाभ मिलने में परेशानी आ रही हैं या आवेदन करने में परेशानी आ रही है तो उसके लिए हम जनता सेना की तरफ से ईमित्र के माध्यम से ऐसे परिवारों या व्यक्ति का आवेदन करवा करके उसको सरकार की योजनाओं का लाभ दिलवाने का प्रयास करेंगे।

मंहगाई राहत नहीं आफत कैम्प

वर्तमान कांग्रेस सरकार द्वारा पूरे प्रदेश में चलाएं जा रहे मंहगाई राहत कैम्प से आमजनों को कोई नई राहत नहीं मिली है। केवल पहले से चल रही योजनाओं का लोगों को शिविरों में बुलाकर एक स्टीकर प्रिंट कर कार्ड बनाकर लाभान्वित होने प्रमाण पत्र दे रहे है। ये सरकार केवल लोगों को कागजों में व्यस्त रखना चाहती है। प्रदेश में आमजन बुरी तरह से ठगा हुआ महसूस कर रहा है।

पिछले साढ़े चार वर्षों में ऐसा कोई भी कार्य नहीं किया कि प्रदेश की जनता खुश हो गई हो कि सरकार हमारी सोच रही है। इसलिए ये मंहगाई राहत कैम्प भी केवल लोगों के लिए आफत कैम्प के अलावा कुछ नहीं है। 

सरकार की थोथी घोषणाएं

वल्लभनगर विधानसभा में इस सरकार ने जो घोषणाएं की हैं वो अभी तक धरातल पर नहीं दिखी है। जबकि अब केवल 6 माह ही बचे है। इस सरकार ने तो हमारे समय बनें कानोड़ तहसील का भवन तक नहीं बना सकें है। अब इनकी घोषणाओं को कब पूरा करेंगे। भीण्डर का उपखण्ड कार्यालय अभी भी तहसील भवन में चल रहा है। भीण्डर का कॉलेज कानोड़ तहसील क्षेत्र की जमीन में बन रहा है। कानोड़ में आईटीआई कॉलेज और मॉडल हॉस्पिटल का अभी तक इंतजार खत्म नहीं हुआ है। इसलिए कांग्रेस सरकार केवल बड़ी-बड़ी घोषणाएं करके बैठ गई हैं धरातल पर कोई काम नहीं हुआ है। जिसका जवाब जनता आने वाले समय में जरूर देगी।

सड़कों का भ्रष्ट्राचार

वल्लभनगर विधानसभा में उपचुनाव के बाद जहां भी सड़कें बनी हैं वो कुछ दिनों में ही टूट गई। अभी कुछ दिनों पहले अखबारों में खबर लगी थी कि सालेड़ा के निकट सड़क बनने के दूसरे दिन ही डामर उखड़ गया। जिससे साफ जाहिर हो रहा हैं कि वल्लभनगर विधानसभा क्षेत्र में बनाई गई सड़कों की गुणवत्ता ऐसी खराब क्यों थी, इसकी जांच होनी चाहिए। 

उन्होंने कहा कि इसके अलावा हम यात्रा में गांव-गांव जा रहे हैं जिससे इस सरकार की सच्चाई आमजनों की जुबान से सुनकर आयेंगे। यात्रा से हमें भी पता चलेगा कि पिछले साढ़े चार वर्षों से आमजन कितने परेशान हो रहे हैं और कैसे गांव-ढाणी की हालत बना दी है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal