एक बूथ ऐसा भी जहां पिछले चुनाव में एक भी वोट नहीं पड़ा


एक बूथ ऐसा भी जहां पिछले चुनाव में एक भी वोट नहीं पड़ा 

झाड़ोल विधानसभा के खरड़िया तथा सरवन गांव के लोग मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर चुनाव में मतदान का बहिष्कार किया था

 
jhadol polling booth
UT WhatsApp Channel Join Now

उदयपुर, 21 अक्टूबर। उदयपुर जिले की आदिवासी बाहुल्य सीट झाड़ोल (ST) राजस्थान की सियासत में अहम योगदान रखती है। ये उदयपुर लोकसभा सीट का हिस्सा है, जो मेवाड़ इलाके में पड़ता है। यहां पर 2 लाख 72 हजार से अधिक मतदाता हैं। चुनाव आयोग के आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, इस बार विधानसभा चुनाव में 5. 27 करोड़ मतदाता राजस्थान में सरकार चुनेंगे।

वहीं दूसरी ओर एक बूथ ऐसा भी रहा है। जहां पिछले चुनाव में लोगों ने मतदान तक नहीं किया। ये बूथ झाडोल विधानसभा क्षेत्र का है। सरवन गांव गेम सेंचुरी वन क्षेत्र में बसा हुआ है। वहाँ पर स्थित राजकीय उच्च प्राथमिक विद्यालय के भाग संख्या 283 पर यहां के मतदाताओं ने एक भी वोट नहीं डाला। इस कारण इस बूथ पर जीरो प्रतिशत मतदान हुआ। दरअसल इसकी वजह ये रही कि झाड़ोल विधानसभा के खरड़िया तथा सरवन गांव के लोग मूलभूत सुविधाओं की मांग को लेकर चुनाव में मतदान का बहिष्कार किया था ।

खरड़िया पंचायत में तीन राजस्व गांवों में नला बड़ा गांव में 121 बीपीएल परिवार हैं। नला छोटा में 41, खरड़िया में 248 बीपीएल परिवार हैं। तीनों राजस्व गांवों में 410 में से एक भी गरीब परिवार के घर में बिजली कनेक्शन नहीं हैं। इन्ही समस्याओं को लेकर लोगों ने पिछले चुनाव में मतदान का बहिष्कार करने की चेतावनी दी थी । लोगों का कहना है कि दोनों ही सरकारें देख ली, लेकिन बिजली किसी ने नहीं पहुंचाई। 

इधर, सरवन गांव के लोग सड़क नहीं बनने के विरोध में मतदान बहिष्कार की चेतावनी दी थी । बताया गया कि यह गांव फुलवारी की नाल वन्य जीव अभयारण्य क्षेत्र में आता है। इस कारण सड़क का काम लंबे समय से अटका हुआ है। कई बार अधिकारियों, जनप्रतिनिधियों को समस्या बताने के बाद भी समाधान नहीं हुआ तो गांव के लोगों ने वोट नहीं डालने का निर्णय ले लिया।

अब झाडोल विधानसभा क्षेत्र के लोगों की समस्या के समाधान मिलने पर लोग अब वोट डालने पर मान चुके हैं।

झाड़ोल के अमरसिंह झाला ने कहा कि नाल व सरवन क्षेत्र के लोगों की साढ़े पांच किमी तक सड़क निर्माण की मांग थी। जिसे राजस्थान सरकार ने ढाई किमी तक बना दी है। इसमें आगे का क्षेत्र वन विभाग के अधीन होने के कारण यहां सड़क का निर्माण नहीं हो सका। इसके लिए वन पथ का निर्माण शुरू किया गया है। जिसके तहत खरंजा निर्माण, पक्की रपट, नाले आदि का निर्माण कर बाद में डामर का किया जाएगा। जिससे कि लोगों को आवागमन में कोई परेशानी नहीं होगी।

 सोलर लाइटें लगाई गई है 

झाड़ोल विधानसभा क्षेत्र में सोलर लाइटें लगाई गई  हैं। ऐसे में इस क्षेत्र के मतदाताओं की बिजली की समस्या का समाधान भी हुआ है। इन्हें बिजली उपलब्ध कराने के लिए भारत सरकार को फाइल भेजी गई है। वहां से स्वीकृति मिलने के बाद इस क्षेत्र के लोगों को बिजली भी उपलब्ध करवाने का काम किया जाएगा।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal