भारतीय फुटबॉल के दिग्गज रेनेडी सिंह, बेमबेम देवी और शाजी प्रभाकरन जिंक फुटबॉल से जुड़े

भारतीय फुटबॉल के दिग्गज रेनेडी सिंह, बेमबेम देवी और शाजी प्रभाकरन जिंक फुटबॉल से जुड़े

पूर्व भारतीय फुटबॉलर रेनेडी, बेमबेम तथा फुटबॉल प्रशासक शाजी जिंक फुटबॉल सलाहकार बोर्ड में शामिल

 
zinc football

ये तीनों दिग्गज जिंक फुटबाल एनिशिएटिव के लिए हिंदुस्तान जिंक में नेतृत्व टीम को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने के साथ-साथ जिंक फुटबॉल की बेहतरी के लिए अपना अमूल्य मार्गदर्शन और परामर्श प्रदान करेंगे।

उदयपुर। भारतीय फुटबॉल टीम के पूर्व कप्तान रेनेडी सिंह, भारत की सबसे ख्यातिमान महिला फुटबॉलर ओइनम बेमबेम देवी और फुटबॉल दिल्ली के अध्यक्ष तथा फीफा के पूर्व-दक्षिण मध्य एशिया विकास अधिकारी शाजी प्रभाकरन वेदांता हिंदुस्तान जिंक की अनोखी पहल के रूप में देश में प्रसिद्ध जिंक फुटबाल के सलाहकार बोर्ड में शामिल हो गए है।

जिंक फुटबॉल एडवाइजरी बोर्ड के मूल में ये तीन विशेषज्ञ शामिल हैं। ये तीनों दिग्गज जिंक फुटबाल एनिशिएटिव के लिए हिंदुस्तान जिंक में नेतृत्व टीम को महत्वपूर्ण जानकारी प्रदान करने के साथ-साथ जिंक फुटबॉल की बेहतरी के लिए अपना अमूल्य मार्गदर्शन और परामर्श प्रदान करेंगे।

सलाहकार बोर्ड की सह-अध्यक्षता हिंदुस्तान जिंक लि. के मुख्य कार्यकारी अधिकारी अरुण मिश्रा, और वेदांता फुटबॉल के अध्यक्ष अनन्य अग्रवाल करेंगे। सलाहकारों और जिंक फुटबॉल टीम के बीच परिचयात्मक बैठक गुरुवार को सफलतापूर्वक संपन्न हुई। कोरोनावायरस महामारी के कारण जारी यात्रा प्रतिबंधों के कारण यह बैठक वर्चुअली ही आयोजित की गई।

जिंक फुटबॉल सलाहकार बोर्ड में शामिल होने पर रेनेडी सिंह ने कहा कि मैं बेमबेम और शाजी के साथ जिंक फुटबॉल सलाहकार बोर्ड का हिस्सा बनकर खुश हूं। जिंक फुटबॉल के पास प्रभावशाली बुनियादी ढांचा है और उन्नत प्रशिक्षण कार्यक्रम हैं। उनमें सर्वश्रेष्ठ बनने की क्षमता है। वे आगे चलकर भारतीय फुटबॉल टीम के लिए कुछ बेहतरीन प्रतिभाएं पैदा कर सकते हैं। 

बेमबेम देवी ने कहा कि मैं जिंक फुटबॉल परिवार का हिस्सा बनकर उत्साहित हूं। यहां प्रभावशाली प्रबंधन और सुविधाएं हैं। हमारे समय में इस तरह की सुविधाएं नहीं थी और मुझे खुशी है कि वेदांता हिंदुस्तान जिंक ने इसके लिए कदम उठाया है। मैं उदयपुर में नवोदित फुटबॉलरों से मिलने के लिए उत्सुक हूं। 

फुटबॉल दिल्ली के अध्यक्ष शाजी प्रभाकरन ने कहा कि मैं पहले एक बार जिंक फुटबॉल अकादमी का दौरा कर चुका हूं और वहां के विश्व स्तरीय बुनियादी ढांचे से खुश हूं। अब मैं एक सलाहकार के रूप में इस महत्वाकांक्षी परियोजना का हिस्सा बनकर सम्मानित महसूस कर रहा हूं। हम सब मिलकर इस पहल को और अधिक ऊंचाइयों पर ले जाएंगे।

जिंक फुटबॉल सलाहकार बोर्ड के चैयरपर्सन अनन्य अग्रवाल ने कहा कि मैं भारतीय फुटबॉल के रेनेडी सिंह, बेमबेम देवी और शाजी प्रभाकरण का जिंक फुटबॉल परियोजना में स्वागत कर प्रसन्न हूं। ये सभी युवा फुटबॉलरों के लिए प्रेरणास्रोत्र हैं। मुझे यकीन है कि इनके समर्थन, इनपुट और मार्गदर्शन से जिंक फुटबॉल राजस्थान के साथ-साथ भारतीय फुटबॉल में क्रांति लाएगा। जिंक फुटबॉल राजस्थान में फुटबॉल क्रांति की शुरुआत करने के लिए वेदांता हिंदुस्तान जिंक ग्रुप की एक पहल है। यह उदयपुर, राजस्थान के पास जावर में प्रौद्योगिकी और डेटा विश्लेषण के साथ अपनी तरह का एक अनूठा जमीनी विकास कार्यक्रम (ग्रासरूट प्रोग्राम) है। यह कार्यक्रम बड़ी सफलता से सामाजिक और सामुदायिक विकास के लिए एक उपकरण के रूप में फुटबॉल का उपयोग कर रहा है और यह सुनिश्चित कर रहा है कि युवा लडक़ों और लड़कियों के पास फुटबॉल के माध्यम से खुद को व्यक्त करने का एक सफल मंच हो।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal