नारायण सेवा के मंच पर देशभर की 16 टीम के दिव्यांग दिखा रहे जलवा


नारायण सेवा के मंच पर देशभर की 16 टीम के दिव्यांग दिखा रहे जलवा

नारायण सेवा संस्थान, डीसीसीआई, डब्ल्यू सी आई और राजस्थान रॉयल्स के तत्वावधान में व्हीलचेयर क्रिकेट चैंपियनशिप

 
wheelchair cricket
UT WhatsApp Channel Join Now

व्हीलचेयर क्रिकेट चैंपियनशिप के दूसरे दिन छत्तीसगढ़, तमिलनाडु, उत्तराखंड, गुजरात, यूपी व दिल्ली जीते

बहाव की दिशा में तो सब बहते हैं। सशक्त युवा तो वह होता है जो नदियों की धार भी पलट दे, जरूरत पड़े तो बहाव के विपरीत भी तैरने लगे। ऐसा ही एक मौका है उदयपुर में नारायण सेवा संस्थान,डीसीसीआई, डब्ल्यू सी आई और राजस्थान रॉयल्स के तत्वावधान में चल रही नेशनल व्हीलचेयर क्रिकेट  चैंपियनशिप की लीग शृंखला में भाग ले रहे दिव्यांग युवा क्रिकेटर्स का जो लक्ष्य की पूर्ति के लिए भरपूर जज्बे, जिद और जुनून से लबरेज है। उनके लिए असंभव कुछ भी नहीं। हर कोई उनके हौसले देख दंग रह जाता है। जो सामान्य सकलांग नहीं कर पाते है वो सब कुछ करे जा रहे है, अद्भुत, अकल्पनीय, अविस्मरणीय।

नारायण सेवा संस्थान के अध्यक्ष प्रशांत अग्रवाल ने बताया कि प्रथम-सत्र में संस्थान के नारायण दिव्यांग स्पोर्ट्स एकेडमी में मेजबान राजस्थान बनाम उत्तराखंड के बीच मैंच हुआ । टॉस हारकर राजस्थान ने पहले बेटिंग करते हुए 15.2 ओवर में 102 रन बना ऑल आउट हो गई। जवाब में उत्तराखंड के अफताब अंसारी के अर्द्ध शतक के बदौलत 12 ओवर में 6 विकेट से जीत अपने नाम की। उत्तराखंड के अजय शर्मा 4 ओवर में 4 विकेट लेकर मैन ऑफ द मैच बने। इधर रेलवे ग्राउंड पर तमिलनाडु वर्सेज उडीसा के मध्य खेले गए मैच में तमिलनाडु ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 235 रन का बड़ा स्कोर खड़ा किया। लक्ष्य का पीछा करने उतरी उडीसा की टीम मात्र 36 रन पर ऑल आउट हो गई। परिणामस्वरूप तमिलनाडु 199 से विजयी हुई। इस मैच के मैंन ऑफ द मैच जेयन रहे।जिन्होंने 54 गेंद पर शानदार 115 रन का योगदान दिया।

उदयपुर की ब्रांड एम्बेसडर दिव्यानी कटारा ने उन्हें सम्मानित किया। वहीं आरसीए ग्राउंड में सुबह की वेला में छतीसगढ़ बनाम पंजाब के मैच में पंजाब ने टॉस जीतकर पहले क्षेत्ररक्षण का फैसला लिया। छत्तीसगढ़ की टीम ने 7 विकेट पर 192 रन जड़े । लक्ष्य का पीछा करते हुए पंजाब 158 रन ही बना सकी। यह मैच छत्तीसगढ़ 34 रन से जीता । करियर का पहला शतक  107 रन बनाने वाले पोषण को मैन ऑफ द मैच का खिताब वरिष्ठ पत्रकार अभिषेक श्रीवास्तव ने ट्रॉफी भेंटकर दिया।

दूसरी पारी में आरसीए ग्राउंड पर गुजरात वर्सेज आंध्रप्रदेश का मुकाबला हुआ। जिसमें आंध्रप्रदेश ने टॉस जीतकर पहले बेटिंग करते हुए 9 विकेट पर 80 रन बनाए। जवाब में गुजरात की टीम ने मात्र 8 ओवर में 1 विकेट पर लक्ष्य हासिल कर 9 विकेट से जीत दर्ज की । गुजरात के कैप्टन भीमा खुन्ती 17 बोल पर 44 रन बनाकर मैन ऑफ द मैच रहे।

रेलवे ग्राउंड का द्वितीय मैच यूपी बनाम हिमाचल के बीच हुआ। टॉस हिमाचल ने जीतकर पहले फिल्डिंग चुनी। यूपी की टीम ने पहले बेटिंग करते हुए निर्धारित ओवर में धुआंधार 1 विकेट पर 310 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए हिमाचल ने निर्धारित ओवर में 7 विकेट पर मात्र 93 रन ही बना सका। यूपी यह मुकाबला 217 रन से जीता। मैन ऑफ द मैच शैलेष यादव रहे।

नारायण पैरा स्पोर्ट्स एकेडमी के दूसरे मैच में दिल्ली वर्सेज मुम्बई में टॉस मुम्बई ने जीता और क्षेत्ररक्षण का फैसला लिया। दिल्ली टीम ने पहले खेलते हुए 9 विकेट पर 179 रन बनाए। सर्वाधिक 74 रन साहिल ने बनाए। लक्ष्य का पीछा करते हुए मुम्बई टीम 5 विकेट पर 133 रन ही बना सकी। यह मुकाबला दिल्ली के  नाम रहा। मैन ऑफ द मैच महेन्द्र सिंह रहे जिन्होंने 31 बॉल पर 49 रन व 1 विकेट भी लिया।

30 नवम्बर 2022, कुल 6 मैच खेले जाएंगे।

नारायण पैरा स्पोर्ट्स एकेडमी ग्राउंड पर प्रातः 8 से 12 बजे तक हरियाणा वर्सेज मध्यप्रदेश और 12.30 से सांय 4 बजे तक उत्तरप्रदेश वर्सेज उडीसा, रा णा प्रताप नगर ग्राउंड में प्रातः 8 बजे पंजाब वर्सेज मुम्बई व दोपहर 12.30 बजे कर्नाटक वर्सेज बरौडा और आर सी ए ग्राउंड में सुबह 8 बजे तमिलनाडु वर्सेज हिमाचलप्रदेश और 12.30 बजे छत्तीसगढ़ , दिल्ली से भिड़ेगी।

पोषण ने केरियर का पहला और सबसे तेज शतक ठोक मैन ऑफ द मैच बने,  25 चौको की मदद से 48 गेंद में 107 रन 

छतीसगढ़ के खिलाड़ी पोषण कुमार 4 साल की उम्र में एक कार एक्सीडेंट में अपना दांया पांव खो बैठे।माता -पिता के साथ स्वयं खेती कर परिवार के 7 जन का पेट भरते है। 2017 से  व्हीलचेयर क्रिकेट खेलना शुरू किया। कम संसाधनों व बड़ी चुनोतियाँ से लड़ आगे बढ़े।अभी तक 12 टूनामेंट खेल चुके है। वे इंडिया ए से भी खेलते है। पाकिस्तान ,बांग्लादेश के विरुद्ध भी दिल जीतने वाला प्रदर्शन कर चुके है।

शैलेष ने जड़ा लगातार दूसरा शतक, हिमाचल के खिलाफ 58  गेंद पर 30 चौकों की मदद से 129 रन

बल्लेबाजी के दम से अपनी और आकर्षित करने वाले शैलेष यूपी टीम के ऑपनर है जो पिछले डेढ़ साल से शानदार प्रदर्शन कर रहे है । इससे पूर्व 2 शतक जड़ चुके है। इनके पिता किसानी करते है और स्वयं शकुंतला विश्व विद्यालय से स्पेशल बीएड का कोर्स कर रहे है। घर की माली हालत ठीक न होते हुए भी क्रिकेट के प्रति गजब का जुनून है। बल्लेबाजी कर शैलेष ने सलेक्टर्स का ध्यान अपनी ओर खीचते हुए इण्डियन टीम में चयन की दावेदारी की है।
 

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal