अगस्त में बना रिकॉर्ड, 1 लाख 60 हजार 567 पर्यटक पहुंचे लेकसिटी

अगस्त में बना रिकॉर्ड, 1 लाख 60 हजार 567 पर्यटक पहुंचे लेकसिटी

पिछले सालों के मुकाबले पर्यटकों की संख्या बढ़ी है

 
tourist guides

लेकसिटी का पर्यटन अब ऑफ सीजन में भी अच्छा जा रहा है। इस मानसून सीजन में शुरुआत से ही बारिश अच्छी हुई और झीलें भी जुलाई में ही लबालब हो गई। अगस्त माह में पर्यटक उदयपुर आना पसंद कर रहे हैं, यही कारण है कि पिछले सालों के मुकाबले पर्यटकों की संख्या बढ़ी है।

पर्यटन विभाग की ओर से जारी किए गए ताजा आंकड़ों के अनुसार अगस्त माह में कुल 1 लाख 60 हजार 567 पर्यटक पहुंचे। इससे पूर्व जुलाई माह में 1 लाख 35 हजार 961 पर्यटक उदयपुर पहुंचे थे। ये आंकड़े पिछले 13 सालों में सर्वाधिक हैं।

कुल 1 लाख 51 हजार 300 देसी पर्यटक आए

पर्यटन विभाग के अनुसार अगस्त माह में देसी मेहमानों की संख्या 1 लाख 51 हजार 300 रही, वहीं विदेशी मेहमानों की बात करें तो इनकी संख्या 9 हजार 267 रही। जबकि साल 2022 में अगस्त माह में देसी मेहमान 1 लाख 42 हजार 370 और विदेशियों की संख्या 5 हजार 230 रही थी।

इस साल अब तक आए पर्यटक

           माह                देसी                 विदेशी
        अगस्त           160567                9267
        जुलाई            130500               5461
         जून          120450               2295
         मई          127000              6476
        अप्रेल          116900              6754
         मार्च          138000             14026
         फरवरी          140400             15378
       जनवरी           180000             14215

पिछले 12 सालों में अगस्त माह में आए पर्यटक 

               वर्ष              देसी               विदेशी
             2022          142370               5230
             2021            100580                   233
            2020             6875                 80
            2019            76215               11507
           2018            74115               13320
           2017           69367               12426
         2016          62148                13190
        2015             61717                 11898

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal