लेकसिटी के पर्यटन के लिए अच्छी खबर-कामलीघाट से फुलाद के बीच दौड़ेगी हेरिटेज ट्रेन

लेकसिटी के पर्यटन के लिए अच्छी खबर-कामलीघाट से फुलाद के बीच दौड़ेगी हेरिटेज ट्रेन

हेरिटेज ट्रेन का ट्रायल, पहाड़ों के बीच में सफर

 
For Nature Lovers: Trekking to Goramghat

राजस्थान आने वाले पर्यटक अब राजसमंद के गोरमघाट और कामलीघाट की मनोहर वादियों का खूबसूरत नजारा रेल में बैठकर देख सकेंगे। क्योंकि असल अरावली की खूबसूरती यहीं दिखाई देती है।। बताया जाता है की यह सफर शिमला टॉय ट्रेन का अहसास दिलाता है। इसलिए यहाँ के ट्रेन का सफर करने भी कई लोग जाते हैं। अब इस सफर में भी चार चांद लगने वाले हैं, क्योंकि यहां अब हेरिटेज ट्रेन टूरिस्ट कोच का ट्रायल हो चुका है और संभवत जल्द ही इसकी शुरुआत होने वाली है। रेलवे राजसमंद के कामलीघाट से फुलाद के बीच बने नैरोगेज ट्रेक पर हेरिटेज ट्रेन शुरू करने वाला है। खास बात यह है कि नैरोगेज पर दौड़ने वाली यह अपनी तरह की प्रदेश की पहली और देश की संभवत: 7वीं ट्रेन होगी।

ट्रेन 25 किमी का सफर तय करेगी और अधिकतम रफ्तार 19 किमी प्रति घंटा रहेगी। इसे किराये पर लेने वाले संस्थान या व्यक्ति आकर्षक नजारे देखने के लिए खुद की मर्जी से गति और भी कम करा सकेंगे। इतना ही नहीं, इसे अपनी मर्जी की जगह रुकवा सकेंगे और चलवा सकेंगे। संभवतः जुलाई माह में रेलमंत्री अश्विनी वैष्णव इसका उद्घाटन करेंगे। 

ब्रॉड गेज की बात करें तो उस पर 6 लग्जरी हेरिटेज ट्रेनों का संचालन भी रेलवे कर रहा है। इस ट्रेन से उदयपुर में भी पर्यटन में इजाफा होगा। गुजरात से रेल-सड़क से आने वाले पर्यटक उदयपुर आकर ही ट्रेन तक जा सकेंगे। इसके अलावा जयपुर से आने वाले यात्री भी ट्रेन तक पहुंचने के बाद उदयपुर की सैर करेंगे।

ट्रेन पर राजस्थानी चित्रकारी, डीजल इंजन को स्टीम का लुक दिया, 360 डिग्री का व्यू

ट्रेन का संचालन अजमेर रेल मंडल करेगा। कामली घाट से फुलाद तक के 25 किमी के सफर में यह ट्रेन प्राकृतिक और मनोरम दृश्यों के अलावा ट्रेन घाट खंड के कई दर्शनीय स्थलाें काे कवर करेगी। इनमें हेरिटेज घाट, कई खड़ी ढलानें, तीखे माेड़े, सुरंगें, पुल आदि आकर्षण का केंद्र रहेंगे। हेरिटेज घाट एक्सप्रेस ट्रेन में दाे काेच हैं। इनमें एक विशेष विस्टाडोम काेच है। व्यू 360 डिग्री रहेगा। ट्रेन में राेलिंग चेयर हैं। 60 यात्री सफर कर सकेंगे।

दूसरे काेच में जनरेटर और पेंट्री कार हाेगी। ट्रेन काे राजस्थानी लुक देने के लिए इस पर हाथी-घाेड़े की चित्रकारी की गई है। यह एसी ट्रेन गाेरम घाट, फुलाद और कामली घाट पर रुकेगी। डीजल लोको को स्टीम लोको का लुक दिया गया है। इसके साथ एक पावर कार चलेगी, इसमें 20 सीटों की सिटिंग अलग से होगी। खास बात यह है कि इसे एक साथ बुक किया जा सकेगा। रेलवे ने इसका किराया अभी तय नहीं किया है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal