नई वंदे भारत ट्रेन में विभिन्न तरह के सुधार

नई वंदे भारत ट्रेन में विभिन्न तरह के सुधार

यात्रियों को बेहतर और सुविधाजनक यात्रा के लिए रेलवे की प्रतिबद्धता

 
vande bharat in udaipur

भारतीय रेलवे द्वारा मेक इन इंडिया और आत्मनिर्भर भारत की संकल्पना को साकार करने के लिए नवीनतम तकनीक का प्रयोग कर पूर्णतः स्वदेशी सेमी हाई स्पीड वंदे भारत ट्रेन का संचालन देश के विभिन्न भागों में किया जा रहा है। वंदे भारत ट्रेन आकर्षक एरोडाइनमिक डिजायन, आंतरिक साज-सज्जा, अत्याधुनिक सुविधाएं, आरामदायक यात्रा, सुरक्षा प्रबंधन और संरक्षित सफर के मापदण्ड़ों के साथ देश में सर्वाधिक लोकप्रिय ट्रेन है और इसके संचालन को लेकर यात्रियों में बहुत उत्साह है।

रेलवे द्वारा वंदे भारत ट्रेन को यात्रियों के लिए और अधिक सुविधाजनक और बेहतर सुविधाओं से सुसज्जित किया गया है, जिससे यात्रियों को यात्रा का नया अनुभव प्राप्त हो सके। नई वंदे भारत ट्रेन में कुछ उल्लेखनीय सुधार किए गए है जिसमें बैठने के लिए आरामदायक व्यवस्था, आन्तरिक साज-सज्जा, टॉयलेट में बेहतर सुविधाएं, दिव्यांगजन सुविधाओं में सुधार, उत्तम वातानुकूलन के लिए एसी प्रणाली में सुधार, बेहतर प्रकाश व्यवस्था और संरक्षा को और अधिक सुदृढ़ करने के कार्य किए गए है।

नई वंदे भारत रेक में यात्रियों को बैठने में आराम का अहसास हो इसके लिए सीट के झुकाव कोण को बढ़ाया गया है और कुशन को भी नरम व आरामदायक किया गया है। इसके साथ ही सीटो के रंग को अच्छा दिखने वाले नीले रंग में बदला गया है। सीट के नीचे लगे मोबाइल चार्जिंग पोइंट की पहुंच को भी पहले की तुलना में बेहतर किया गया है ताकि यात्रियों को मोबाइल चार्ज करने में कठिनाई न हो। इसके साथ ही टॉयलेट में भी कई सुविधाओं अनुकूल किया गया है जिनमें वॉश बैसिन की गहराई को बढाया गया है। इसके साथ ही टॉयलेट के हैंडल को भी अतिरिक्त मोडा गया है जिससे इसको पकडने में आसानी हो। टॉयलेट में लाइट क्षमता को 1.5 वाट से बढाकर 2.5 वाट किया गया है तथा नल में पानी के प्रवाह के नियंत्रण के लिए बेहतर वाटर टेप का प्रावधान किया गया है। दिव्यांगजनों को सुविधा के लिए उनकी निर्धारित सीट के पास ही व्हील चेयर रखने के प्रावधान किया गया है।

नई वंदे भारत रेक में संरक्षा को और अधिक सुदृढ़ बनाने पर बल दिया गया है। इसके लिए आपातकालीन स्थिति में हैमर तक आसान पहुंचऔर हेमर बॉक्स की डिजायन में परिवर्तन किया गया है। कोच में अग्निशामक यंत्रों की एसेम्बली को पारदर्शी रखा गया है ताकि इसकी दृश्यता बेहतर हो सके और आपातकाल स्थिति में इसके उपयोग में परेशानी न हो।

इस वंदे भारत में पैनलों पर इन्सुलेशन के साथ बेहतर एयरकंडीशनिंग के लिए बेहतर एयर टाइटनेस, कम पारदर्शिता के साथ बेहतर रोलर ब्लाइंड फैब्रिक, बेहतर दृश्यता और सुन्दरता के लिए ड्राइविंग ट्रेलर कोच में एक समान रंग युक्त ड्राइवर डेस्क, लोको पायलट के लिए ड्राइवर कंट्रोल पैनल में आपातकालीन स्टॉप पुश बटन, कोच के अंदर आग का पता लगाने के लिए बेहतर एयरोसोल आधारित अग्निशमक प्रणाली का प्रावधान रखा गया है। उन रेलखण्डों में जहाँ क्षेत्रों में लैंडस्केप और ओएचई की स्थिति अधिक ऊँचाई पर है उसके लिए हाई राइज पेंटोग्राफ का प्रावधान रखा गया है।

रेलवे का प्रयास है कि यात्रियों को बेहतर और आरामदायक रेल सुविधा प्रदान होने के साथ-साथ संरक्षित सफर मिल सकें, इसके लिए रेलवे नित नए नवाचार कर रहा है। रेलवे प्रतिबद्ध होकर अपने यात्रियों के लिए कार्य कर रहा है।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal