रुण्डेड़ा तालाब पर वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर की टीम पहुंची

रुण्डेड़ा तालाब पर वाइल्ड लाइफ फोटोग्राफर की टीम पहुंची

फोटोग्राफर्स को पर्पल हेरॉन, कील बैक सांप और प्रवासी शिकारी पक्षी ग्रेटर स्पॉटेड ईगल की लड़ाई देखने को मिली 

 
migratory birds

उदयपुर,23 दिसंबर। जैसे-जैसे सर्दी जोर पकड़ रही है, पक्षियों के मेहमान धीरे-धीरे जलाशयों की ओर आने लगे हैं, जिससे स्थानीय पर्यटकों के साथ-साथ शौकीन पक्षी प्रेमियों को भी काफी खुशी हो रही है। रुण्डेड़ा तालाब व एनिकट पर प्रवासी मेहमान पक्षियों की संख्या भी बढ़ने लगी है। विभिन्न प्रवासी पक्षियों के दृश्य और चहचहाहट से लगभग सभी जलस्रोत दृश्य आनंद में बदल चुके है।

अद्भुत और बहुत कम दिखने वाला नज़ारे को किया कैमरे में कैद

इधर, बुधवार को एक अद्भुत नजारा भी देखने को मिला,जहां एक ओर पर्पल हेरॉन ने एक कील बैक सांप को चोंच में पकड़ लिया, वही सांप ने भी जिंदगी बचाने के लिए अपने शरीर को हेरॉन की गर्दन के अगल-बगल लपेट लिया। बात यहां खत्म नहीं हुई, पास के पेड़ पर बैठा प्रवासी शिकारी पक्षी ग्रेटर स्पॉटेड ईगल भी उनके इस संघर्ष को देख रहा था और अब इस लड़ाई में वो भी उतर गया, प्रवासी ईगल ने भी पानी वाले सांप को हेरॉन से छीनने की कोशिश की, परंतु हेरॉन पानी में उगी बड़ी घास में छिप गया, कुछ देर तो ईगल वहां रुका रहा पर फिर उसने वहां से उड़ान भर ली।

फोटोग्राफर्स द्वारा कड़ी मेहनत करने के बावजूद भी संघर्ष में विजेता को देखा ना जा सका, क्योंकि कुछ देर बाद हेरॉन अपनी गर्दन में लिपटे हुए सांप को लेकर खेतों के पार उड़ निकला। ये अद्भुत और बहुत कम दिखने वाला नज़ारा उदयपुर व चित्तौड़गढ़ से आई वाइल्ड लाईफ फोटोग्राफर्स की टीम के शशि दुष्यंत, रोहित द्विवेदी, दीपाल सिंह कालरा और शरद अग्रवाल ने अपने कैमरे में कैद किया ।

तालाब में पहुंचने लगे हैं विदेशी पक्षियों के झुंड

इन पक्षियों के आगे न तो कोई सरहद की दीवार आई और न ही कोई वीज़ा या परमिट। ये सुकून की तलाश में रूण्डेड़ा तालाब पहुंच रहे हैं। रूण्डेड़ा तालाब पर कई देशी-विदेशी पक्षी देखने को मिल रहे हैं, जैसे ब्लेक नेक्ड स्टॉर्क, फेरूजिनियस पोचार्ड, नार्दन शॉवलर, रडी शैल डक, कॉमन पोचार्ड, ग्रीन विग्ड टील, ग्रेटर स्पाटेड ईगल, मोन्टेग्युज हैरियर, मार्श हैरियर, शॉर्ट टॉ स्नेक ईगल, कॉमन चिट चॉफ, रेड ब्रेस्टेड फ्लाई केचर, पर्पल हेरॉन, ग्रे हेरॉन आदि। वहीं कुछ छोटे पक्षी शिकारी पक्षियों का शिकार भी बन रहे हैं।

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal