कोविशील्ड वैक्सीन के दुसरे डोज़ लगाने की अवधि 2 हफ़्तों से बढ़ी - केंद्र का फैसला

कोविशील्ड वैक्सीन के दुसरे डोज़ लगाने की अवधि 2 हफ़्तों से बढ़ी - केंद्र का फैसला

दावा किया गया है कि अगर वैक्सीन का दूसरा डोज 6 से 8 हफ्ते के बीच दिया जाता है, तो यह ज्यादा असरदार साबित होगी।

 
कोविशील्ड वैक्सीन के दुसरे डोज़ लगाने की अवधि 2 हफ़्तों से बढ़ी - केंद्र का फैसला
  • कोवैक्सीन पर नहीं होगा लागू
  • केंद्र के फैसले के बाद राज्य सरकारों को करना होगा अमल

एस्ट्राजेनेका की कोरोना वैक्सीन कोविशील्ड के पहले और दूसरे डोज़ के बीच के अंतर को बढ़ाने का फैसला सरकार की ओर से ले लिया गया है। केंद्र की ओर से फैसला लिया गया है कि कोवीशिल्ड के दोनों डोज़ के बीच का अंतर कम से कम 28 दिन को और ज्यादा से ज्यादा 56 दिनों का होना चाहिए। आज तक यह अवधि 28 से 42 दिन की थी। फैसले में यह भी कहा गया है की यह अवधि सिर्फ कोवीशिल्ड पर ही लागू होगा। इसको कोवैक्सीन पर लागू नहीं किया जाएगा।

केंद्र सरकार के मुताबिक, नेशनल टेक्निकल एडवाइज़री ग्रुप ऑन इम्यूनाइज़ेशन (NTAGI) और वैक्सीनेशन एक्सपर्ट ग्रुप की ताजा रिसर्च के बाद यह फैसला लिया जा रहा है, जिसका अमल राज्य सरकारों को करना होगा। दावा किया गया है कि अगर वैक्सीन का दूसरा डोज 6 से 8 हफ्ते के बीच दिया जाता है, तो यह ज्यादा असरदार साबित होगी। बता दें की जिन दुसरे देशों में एस्ट्राज़ेनेका वैक्सीन के दुसरे डोज़ की अवधि 28-70 दिन की है।

केंद्र सरकार का यह फैसला शायद वैक्सीन को ज्यादा से ज्यादा लोगो तक पहुन्चाने में मदद करे। केंद्र सरकार के इस फैसले में अमल के बाद हो सकता है की अगला फैसला 60 साल की उम्र के आलावा 45 साल की उम्र वालो को भी वैक्सीन देने का फैसला आ जाए

To join us on Facebook Click Here and Subscribe to UdaipurTimes Broadcast channels on   GoogleNews |  Telegram |  Signal